• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमेरिका ने उठाया चीन में उइगर नरसंहार का मुद्दा, कहा-2022 में ना दी जाए ओलंपिक की मेजबानी

|

वॉशिंगटन। अमेरिकी कांग्रेसी टेड योहो ने चीनी सरकार पर नरसंहार के आऱोप लगाए हैं। टेड योहो ने कहा कि चीन के झिंजियांग में नरसंहार हो रहा है। उन्होंने कहा कि, उइगुर मुसलमानों के क्रूर दमन के कारण बीजिंग को 2022 ओलंपिक खेलों की मेजबानी करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। एशिया और प्रशांत पर हाउस फॉरेन अफेयर्स उपसमिति के सदस्य टेड योहो ने कहा कि, चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने देशव्यापी अभियान को लागू कर उइगर और पूर्वी तुर्क आबादी पर अत्याचार, बलात्कार, और नसबंदी जैसी क्रूर घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं।

    US-China Tension:Muslim संगठनों ने UN में की China के खिलाफ अपील, US ने भी की ये मांग|वनइंडिया हिंदी

    Ted Yoho slams China for Xinjiang genocide saying Beijing should not allowed host 2022 Olympic Games

    योहो का बयान उइघुर तुर्क और चीन के अन्य मुस्लिम समुदायों द्वारा संयुक्त राष्ट्र और अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठनों से चीन पर दबाव डालने और उनके समुदाय के खिलाफ नरसंहार के कृत्यों की जांच करने का आग्रह करने के बाद आया है। 'पूर्वी तुर्किस्तान में नरसंहार' शीर्षक वाली एक हालिया रिपोर्ट में चीन पर कोविड-19 महामारी के बावजूद उइघुर तुर्कों और अन्य मुस्लिम समुदायों के उत्पीड़न का आरोप लगाया है।

    उन्होंने कहा कि, चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग कोविड-19 का उपयोग कर रहे हैं। चीन दुनिया भर में अपने विस्तारवादी अभियान के लिए महामारी का उपयोग कर रहा है। पूर्वी तुर्किस्तान में व्यापक तौर पर मानव अधिकारों के उल्लंघन को देखा गया था। इस क्षेत्र में अपने आर्थिक, राजनीतिक और भू-राजनीतिक हितों के कारण, सीसीपी मुस्लिम समुदायों, विशेषकर उइघुर तुर्कों के प्रति अत्याचार को बढ़ा रहा है।

    Ted Yoho slams China for Xinjiang genocide saying Beijing should not allowed host 2022 Olympic Games

    उइगरों को व्यवस्थित रूप से आत्मसात करने के उद्देश्य से, चीन अपनी जातीय पहचान और जनसंख्या को मिटा रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि, चीनी सरकार ने उइगरों के दैनिक जीवन को नियंत्रित करने के लिए 1.1 मिलियन हान चीनी कैडर पूर्वी तुर्किस्तान को भेजे हैं। उनका काम उइघुर घरों में रहना है, यदि आवश्यक हो तो उनके साथ एक ही बिस्तर साझा करें, और उनके दैनिक जीवन के सभी पहलुओं को नियंत्रित करें। चीनी सरकार द्वारा शुरू किए गए 'डबल रिलेटिव प्रोग्राम' के तहत हान चीनी कैडर हर दो महीने में कम से कम एक बार यात्रा करते हैं और लगभग एक सप्ताह तक रहते हैं।

    चीन के पास सीमाई विवादों को भड़काने का एक पैटर्न, दुनिया को इसकी अनुमति नहीं देनी चाहिए: अमेरिका

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Ted Yoho slams China for Xinjiang genocide saying Beijing should not allowed host 2022 Olympic Games
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X