लंदन में शाही स्‍वागत कर रहा पीएम मोदी का इंतजार, क्‍वीन एलिजाबेथ और प्रिंस चार्ल्‍स करेंगे बकिंघम पैलेस में वेलकम

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लंदन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को चार दिनों की यात्रा पर लंदन पहुंचेंगे। वरिष्‍ठ अधिकारियों की मानें तो पीएम मोदी कॉमनवेल्‍थ देशों के अकेले ऐसे राष्‍ट्राध्‍यक्ष हैं जिन्‍हें कॉमनवेल्‍थ हेड्स ऑफ गर्वनमेंट मीटिंग (सीएचओजीएम) से पहले द्विपक्षीय मुलाकात की पेशकश की गई है। पीएम मोदी को की गई इस पेशकश को अधिकारी एक 'असाधारण स्‍वागत' के तौर पर देख रहे हैं। पीएम मोदी बुधवार को ब्रिटिश पीएम थेरेसा मे से मुलाकात करेंगे। जबकि गुरुचार को कॉमनवेल्‍थ समिट की शुरुआत होगी और इस दौरान वह कई औपचारिक मुलाकातों में व्‍यस्‍त हो जाएंगे।

सिर्फ मोदी को मिला एलिजाबेथ से मुलाकात का इनवाइट

सिर्फ मोदी को मिला एलिजाबेथ से मुलाकात का इनवाइट

पीएम मोदी सोमवार को स्‍वीडन और लंदन की यात्रा के लिए रवाना हो गए हैं। मंगलवार रात को पीएम मोदी स्‍वीडन से लंदन पहुंचेंगे। बुधवार शाम को वह महारानी एलिजाबेथ से मुलाकात करेंगे। सूत्रों के मुताबिक वह कॉमनवेल्‍थ देशों के अकेले ऐसे मुखिया हैं जिन्‍हें गुरुवार को औपचारिक कार्यक्रम से पहले महारानी एलिजाबेथ से मुलाकात करने का निमंत्रण मिला है। पीएम मोदी के अलावा सिर्फ तीन ऐसे वर्ल्‍ड लीडर्स हैं जो सीएचओजीएम से इतर महारानी से मिलेंगे। प्रिंस चार्ल्‍स की ओर से पीएम मोदी के स्‍वागत के लिए एक खास कार्यक्रम आयोजित किया गया है।

प्रिंस चार्ल्‍स करेंगे पीएम मोदी का वेलकम

प्रिंस चार्ल्‍स करेंगे पीएम मोदी का वेलकम

पीएम मोदी के शाही स्‍वागत के तहत प्रिंस चार्ल्‍स उन्‍हें टाटा मोटर्स की पहली इलेक्ट्रिक जगुआर की सैर कराएंगे। यह कार भारत-यूके के बीच तकनीकी सहयोग को दर्शाएगी। तैयारियों में व्‍यस्‍त एक अधिकारी की ओर से जानकारी दी गई है कि पीएम मोदी का यह स्‍वागत कई मायनों में काफी खास है क्‍योंकि उनका स्‍वागत भारत और यूके के बीच संबंधों के बीच अहमियत को बखूबी दर्शाती है। बुधवार सुबह पीएम मोदी 10 डाउनिंग स्‍ट्रीट जाकर ब्रिटिश पीएम थेरेसा मे से मुलाकात करेंगे। दोनों के बीच द्विपक्षीय वार्ता के साथ मोदी के दौरे की आधिकारिक शुरुआत होगी। मे और मोदी मुलाकात के दौरान आतंकवाद, वीजा, अप्रवासन समेत कई और मुद्दों पर चर्चा कर सकते हैं। पीएम मोदी इस दौरान गैर-कानूनी तरीके से बसे लोगों की वापसी के लिए एक एमओयू साइन होगा। यह एमओयू साल 2014 में खत्‍म हो चुका है। अब इसे बायोमैट्रिक के जरिए रिन्‍यू किया जाएगा।

आयुर्वेदिक सेंटर का भी करेंगे उद्घाटन

आयुर्वेदिक सेंटर का भी करेंगे उद्घाटन

मे से मुलाकात के अलावा मोदी लंदन में साइंस म्‍यूजियम भी जाएंगे। यहां पर एक प्रदर्शन के दौरान वह भारतीय मूल के अलावा यूके के साइंटिस्‍ट्स के साथ चर्चा करेंगे। पीएम मोदी इसके अलावा यहां पर एक आयुर्वेदिक सेंटर का भी उद्घाटन करेंगे। इस सेंटर को ऑल इंडिया इंस्‍टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद और यूके के मेडिसन कॉलेज के बीच साइन एमओयू के तहत निर्मित किया गया है। इसका मकसद योग और आयुर्वेद के क्षेत्र में मौजूद दोनों देशों के शिक्षकों और मेडिकल प्रोफेशनल्‍स के बीच आपसी सहयोग को बढ़ाना है। बुधवार को ही पीएम मोदी थेम्‍स नदी पर स्थित बसावेश्‍वर की मूर्ति पर श्रद्धांजलि देने जाएंगे। इसका उद्घाटन नवंबर 2015 में उस समय हुआ था जब मोदी लंदन के दौरे पर गए थे।

सेंट्रल लंदन में होगी भारत की बात

सेंट्रल लंदन में होगी भारत की बात

बुधवार को ही मोदी, बकिंघम पैलेस में क्‍वीन एलिजाबेथ के साथ लोगों के साथ बातचीत करेंगे। इसके बाद वह 'भारत की बात सबके साथ' कार्यक्रम में शामिल होंगे जिसका आयोजन सेंट्रल लंदन में बुधवार को ही होगी। इस कार्यक्रम का लाइव टेलीकॉस्‍ट किया जाएगा। इस कार्यक्रम को भारत-यूके के संबंधों के बीच एक पुल की तरह करार दिया जा रहा है। मोदी यहां पर दुनिया भर के लोगों की ओर से पूछे गए सवालों का जवाब देंगे। यह सवाल पहले ही सोशल मीडिया और कुछ लाइव वीडियो लिंक के जरिए उन तक पहुंच चुके हैं। माना जा रहा है कि इस कार्यक्रम में करीब 2,000 लोग शिरकत कर रहे हैं।

हिंदी में यह भी पढ़ें-पीएम मोदी आज स्वीडन और यूनाइटेड किंगडम की पांच दिन की यात्रा पर होंगे रवाना

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Prime Minister Narendra Modi to arrive at London and he will be here for four days.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.