• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

North Korea: किम जोंग उन की खराब हालत के बीच कोरोना वायरस की दस्‍तक से फैली दहशत, बाजार से गायब सामान

|

प्‍योंगयांग। नॉर्थ कोरिया में इस समय अजग-गजब माहौल बना हुआ है। यहां के लोगों में अजीब तरह की दहशत है और सब्‍जी मंडी में भीड़ ही भीड़ है। नॉर्थ कोरिया की न्‍यूज एजेंसी एनके की तरफ से बताया गया है कि लोगों में डर है कि कोरोना वायरस की वजह से देश में सख्‍त प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं। इस वजह से वो घबराए हुए हैं और बाजार से खाने-पीने की चीजें गायब हो रही है। यह खबर ऐसे समय आई है जब नॉर्थ कोरिया तानाशाह किम जोंग उन का खराब स्‍वास्‍थ्‍य पहले ही अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय में चर्चा का विषय बना हुआ है।

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

यह भी पढ़ें-डोनाल्‍ड ट्रंप बोले- चीन ने अमेरिका पर हमला किया!

देश में जरूरी सामान की कमी

देश में जरूरी सामान की कमी

एनके की तरफ से कहा गया है कि लोगों को आशंंका है अगले कुछ दिनों में राजधानी प्‍योंगयांग की तरफ से सख्‍त आदेश जारी हो सकते हैं। जो लोग प्‍योंगयांग में रहते हैं, वे कुछ दिनों पहले तक आसानी से देश के बाहर जा सकते थे। कुछ दिनों पहले तक सब्‍जी और फल की कमी हो गई थी मगर अब कई जरूरी चीजों की कमी देश में हो गई है। रेडियो फ्री एशिया की तरफ से बताया गया है कि नॉर्थ कोरिया में अनाज, सब्‍जी और फलों के दामों में तेजी से इजाफा हुआ है। जनवरी में नॉर्थ कोरिया ने चीन से सटी अपनी सीमा को बंद कर दिया था और उस समय चीन में तेजी से कोरोना के मामलों में इजाफा हो रहा था।

सबसे गरीब देश नॉर्थ कोरिया

सबसे गरीब देश नॉर्थ कोरिया

किम के प्रशासन की तरफ से कहा गया था कि उनके देश में अभी तक कोरोना वायरस संक्रमण का कोई केस नहीं है। लेकिन अमेरिकी जनरल रॉबर्ट एबराम्‍स का कहना देश में निश्चित तौर पर संक्रमण के मामले हैं क्‍योंकि मिलिट्री गति‍विधियां बहुत कम हैं। जनरल रॉबर्ट यूएस फोर्स कोरिया के कमांडर हैं। उन्‍होंने यह बात मार्च में एक टेलीकॉन्‍फ्रेंसिंग ब्रीफिेंग में कही थी। नॉर्थ कोरिया दुनिया के सबसे गरीब देशों की श्रेणी में आता है। यहां पर सामान्‍य दिनों में भी खाने-पीने के सामान की कमी आम बात है। सन् 1990 में यहां पर अकाल की वजह से देश की जनसंख्‍या में 10 प्रतिशत तक की कमी आ गई थी।

अगर फैला वायरस तो आ जाएगी आफत

अगर फैला वायरस तो आ जाएगी आफत

यूनाइटेड नेशंस की तरफ से वर्ल्‍ड फूड प्रोग्राम की रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि अगर नॉर्थ कोरिया में वायरस फैला तो चीजें देश के लिए भयानक हो सकती हैं। आर्थिक मुश्किलें यहां पर भूखमरी की वजह बन सकती है। वहीं तानाशाह किम जोंग उन भी 15 अप्रैल को देश के स्‍थापना दिवस में नजर नहीं आए और उनकी गैर-मौजूदगी ने कई तरह की चर्चाओं को जन्‍म दे दिया है। किम को आखिरी बार 11 अप्रैल को पोलित ब्‍यूरो की मीटिंग में देखा गया था और इसके बाद से वह कहीं नजर नहीं आए हैं।

किम ने भेजा सीरिया के राष्‍ट्रपति को मैसेज!

किम ने भेजा सीरिया के राष्‍ट्रपति को मैसेज!

न्‍यूज एजेंसी एनके का कहना है कि किम ने बुधवार को एक मैसेज सीरिया के राष्‍ट्रपति बशर अल-असद को भेजा है। अमेरिकी अधिकारियों ने सोमवार को कहा था कि किम की हालत नाजुक बनी हुई है। कहा जा रहा है कि पिछले हफ्ते उनकी कार्डियोवस्‍कुलर सर्जरी हुई है। इसके बाद से ही उनकी मौजूदा हालत का पता नहीं लग पा रहा है। साउथ कोरिया के राष्‍ट्रपति मून जे इन के ऑफिस की तरफ से कहा गया है कि किम अपने ऑफिस में सामान्‍य तरह की गतिविधियों में व्‍यस्‍त हैं। उनके करीबी उनके साथ हैं और कोई भी स्‍पेशल मूवमेंट नहीं पता लगी है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Panic in North Korea people are buying food.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X