• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

'मृत' महिला ने पाकिस्तानी बीमा कंपनियों को लगाया 11 करोड़ रुपए का चूना, 9 साल बाद खुली पोल

|

नई दिल्ली। पाकिस्तान की बीमा कंपनियों से धोखाधड़ी का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला ने अपना झूठा मृत्यु प्रमाणपत्र एक नहीं बल्कि कई बीमा कंपनियों को भारतीय मुद्रा के मुताबिक 11 करोड़ रुपए का चूना लगाया। दिलचस्प बात यह है कि इन बीमा कंपनियों को 9 साल बाद महिला द्वारा ठके जाने की भनक लगी। महिला द्वारा अमीर बनने का यह हथकंडा ज्यादा दिनों तक काम नहीं आया और आखिर में उसका भंडाफोड़ हो गया। अपनी इस कारस्तानी के चलते अब पाकिस्तानी महिला को जेल की हवा खानी पड़ सकती है।

9 साल बाद खुली महिला की पोल

9 साल बाद खुली महिला की पोल

कम समय में ज्यादा पैसा और अमीर होने के लिए शातिर दिमाग के लोग किसी भी हद तक चले जाते हैं। पाकिस्तान की बीमा कंपनियों में उस समय हड़कंप मच गया जब उन्हें एक महिला द्वारा 11 करोड़ रुपए ठगे जाने की जानकारी मिली। आरोपी महिला ने बीमा कंपनियों से पैसे निकालने के लिए झूठा डेथ सर्टिफिकेट बनवाया था। दरअसल, महिला ने बीमा पॉलिसी का पैसा लेने के लिए खुद को मरा हुआ साबित कर दिया। इतना ही नहीं वह अपने इस प्लान में सफल भी हो गई।

महिला के प्लान में बच्चों ने दिया साथ

महिला के प्लान में बच्चों ने दिया साथ

अपने शातिर दिमाग का इस्तेमाल कर महिला भारतीय मुद्रा के मुताबिक 11 करोड़ की मालकिन बन गई। आरोपी महिला के इस जुर्म में उसके बच्चों ने भी सहयोग किया। महिला द्वारा खुद को मृत घोषित किए जाने के बाद उसके बच्चों ने 1.5 मिलियन डॉलर की दो जीवन बीमा पॉलिसियों का दावा किया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बीमा से जुड़े अफसरों ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है। संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) के एक अधिकारी ने बताया कि सीमा खर्बे नाम की महिला ने इस धोखाधड़ी को अंजाम दिया है।

पाकिस्तानी अधिकारियों की मिलीभगत

पाकिस्तानी अधिकारियों की मिलीभगत

अधिकारी के मुताबिक सीमा ने वर्ष 2008 और 2009 के बीच अमेरिका की यात्रा की और इसी दौरान उसने अपने नाम पर दो जीवन बीमा पॉलिसियां ​​खरीदीं। इसके दो वर्ष बाद उसने पाकिस्तान के कुछ स्थानीय सरकारी अधिकारियों और डॉक्टर को रिश्वत के पैसे खिलाए और अपने नाम पर झूठा मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करा लिया। डेथ सर्टिफिकेट में यह भी बताया गया कि 'मृत्यु' के बाद सीमा को कहां दफनाया गया है। इसी सर्टिफिकेट का इस्तेमाल कर सीमा के बच्चों ने 1.5 मिलियन डॉलर (लगभग 23 करोड़ पाकिस्तानी रुपए) के दो दो जीवन बीमा पॉलिसी पर दावा किया।

10 बार विदेश यात्राएं की, फिर भी नहीं पकड़ी गई

10 बार विदेश यात्राएं की, फिर भी नहीं पकड़ी गई

हैरानी की बात यह है कि मृत घोषित किए जाने के बाद भी आरोपी महिला सीमा खर्बे ने कम से कम 10 बार विदेश की यात्राएं की लेकिन किसी को भी उसपर शक नहीं हुआ। आखिर में एयरलाइंस कंपनी ने भी माना कि उससे महिला को पहचानने में गलती हुई, अधिकारी ने बताया कि इस दौरान सीमा ने पांच देशों की यात्रा की लेकिन हर बार वह बिना किसी परेशानी की घर लौट जाती थी। एफआईए मानव तस्करी सेल ने आरोपी महिला सीमा, उसके बेटी और बेटे समेत कुछ स्थानीय अधिकारियों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज कर लिया है।

मध्य प्रदेश की निजी कंपनी पर बैंकों से 106 करोड़ की धोखाधड़ी के आरोप, सीबीआई ने दर्ज किया केस

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pakistani woman Fraud 11 crore rupees to insurance companies by Fake Death Certificate
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X