UNGA में बोले नवाज शरीफ- कश्मीर में शांति नहीं चाहता भारत, बुरहान वानी को बताया युवा नेता

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

न्यूयॉर्क। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने बुधवार रात संयुक्त राष्ट्र महासभा में कहा कि आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान को बदनाम किया जा रहा है जबकि हमारा देश विदेशी मुल्कों की ओर से समर्थित और स्पांसर्ड आतंकवाद का सबसे बड़ा भुक्तभोगी रहा है। उन्होंने भारत पर भी गंभीर आरोप लगाए।

Nawaz Sharif

शरीफ ने कहा, कई देशों में असहिष्णुता और इस्लामोफोबिया का भूत सवार है। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में शांति बहाली की दिशा में पाकिस्तान ने लगातार प्रयास किए हैं। लेकिन विदेशी ताकतें पाकिस्तान के विकास में बाधा बन रही हैं।

पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट का आदेश नहीं मानेगी कर्नाटक सरकार, तमिलनाडु को नहीं मिलेगा पानी

'पहले कश्मीर मुद्दा सुलझे, तब आएगी शांति'

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने कहा कि वह भारत के साथ शांति बहाली चाहते हैं और इस दिशा में कुछ मील आगे भी बढ़े हैं लेकिन भारत के असहयोगी रवैये ने बात पर विराम लगा दिया। शरीफ ने कहा, 'भारत-पाकिस्तान के बीच शांति बहाली तब तक नहीं हो सकती जब तक कश्मीर का मुद्दा नहीं सुलझ जाता।'

'कश्मीर भारत का जबरन कब्जा'

शरीफ ने कहा कि भारत ने कश्मीर में जबरन कब्जा कर रखा है। भारत की सेना ने कश्मीर की जनता के साथ अत्याचार किया है और करीब 100 लोगों को दो महीने में मारा है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में भारतीय सैनिकों की ओर से किए जा रहे अत्याचार को लेकर पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून को डॉजियर सौंपेगा। साथ ही कश्मीर में भड़की हिंसा की स्वतंत्र जांच कराने की मांग भी की।

जानिए क्‍यों आतंकी हमले से पहले चेस्‍ट शेव करते हैं फिदायीन

'बुरहान वानी जैसे युवा नेता को सेना ने मारा'

शरीफ ने कहा कि हाल ही में बुरहान वानी जैसे युवा नेता की कश्मीर में हत्या की गई जो आज कश्मीरी जनता का रोल मॉडल बन चुका है। भारतीय सेना के खिलाफ कश्मीर में रोजाना विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। कर्फ्यू की वजह से वहां के लोगों का जीना मुहाल है। उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान कश्मीर की माताओं, बहनों और बच्चों की खुशी चाहता है और महासभा से अपील करता है कि मुद्दा सुलझाया जाए।'

पढ़ें: पाक उच्चायुक्त को भारतीय विदेश मंत्रालय ने किया तलब

भारत पर लगाया बातचीत रोकने का आरोप

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने भारत को बातचीत का न्योता देते हुए कहा कि पिछली बार भारत ने बिना वजह की शर्तें लगाकर बातचीत रोक दी। भारत अगर शांति चाहता है तो बातचीत के लिए आगे आए। उन्होंने यह भी कहा, 'भारत के साथ परमाणु हथियारों को लेकर उनकी कोई होड़ नहीं है। भारत हमेशा से हथियारों का डर दिखाना चाहता है।' उन्होंने पाकिस्तान को न्यूक्लियर सप्लायर ग्रुप में शामिल करने की मांग की।

शरीफ ने कहा कि पाकिस्तान भारत के साथ शांति चाहता है और इस दिशा में पाकिस्तान आगे भी बढ़ा लेकिन भारत इसमें समर्थन नहीं कर रहा। उन्होंने कहा, 'शांति दोनों देशों के साझा प्रयास से आएगी लेकिन कश्मीर मुद्दा सुलझाए बिना कुछ भी नहीं हो सकता।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
nawaz sharif blames india for unrest in kashmir in united nations General Assembly.
Please Wait while comments are loading...