• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रूस ने मिग-21 को किया अपग्रेड, नई मिसाइलों के साथ अमेरिका के एफ-16 जितना घातक

|

मॉस्‍को। 27 फरवरी को जब से इंडियन एयरफोर्स (आईएएफ) के फाइटर जेट मिग-21 ने पाकिस्‍तान एयरफोर्स (पीएएफ)के फाइटर जेट एफ-16 को ढेर किया है, तब से ही आईएएफ और मिग के बारे में चर्चा हो रही है। मिग रूस में बना फाइटर जेट है तो एफ-16 को अमेरिकी कंपनी लॉकहीड मार्टिन तैयार करती है। कश्‍मीर के आसमान में हुई डॉगफाइट के साथ ही रूस और अमेरिका के बीच कोल्‍ड वॉर के दौरा से जारी दुश्‍मनी भी ताजा हो गई थी। लेकिन अब जो खबरें आ रही हैं उसके तहत रूस ने मिग-21 को अपग्रेड किया है। इस अपग्रेडेशन के साथ ही रूस का यह फाइटर जेट एफ-16 जितना ताकतवर हो गया है।

यह भी पढ़ें-अभिनंदन के जेट पर F-16 ने पांच मिसाइलों से किया था हमला

ऑनबोर्ड रडार और नई रेंज वाली मिसाइल

ऑनबोर्ड रडार और नई रेंज वाली मिसाइल

रूस की न्‍यूज एजेंसी तास ने नेशनल डिफेंस मैगजीन के एडीटर-इन-चीफ इगोर कोरोटेशन्‍को के हवाले से लिखा है कि मिग-21 में अपग्रेडेशन के बाद इसकी युद्धक क्षमताओं में इजाफा हो गया है। अब इस फाइटर जेट में भी वही क्षमताएं हैं तो एफ-16 में हैं। इगोर ने कहा, 'मिग-21 को रूस ने अपग्रेड किया है। अब इसमें एक ऑनबोर्ड रडार और गाइडेड एयर टू एयर मिसाइलें हैं जिनकी रेंज बढ़ाई गई है। अब अपनी युद्धक और उड़ान की क्षमता के बाद यह एफ-16 के उसी वर्जन जैसा है जो पाकिस्‍तान की एयरफोर्स इस समय प्रयोग कर रही है।'

भारत के पास हैं अपग्रेडेड मिग-21

भारत के पास हैं अपग्रेडेड मिग-21

उन्‍होंने आगे कहा, 'भारत के मिग-21 जिनकी संख्‍या है 93 उन्‍हें मिग-21 यूजीपी बाइसन नाम दिया गया है। इन जेट्स को नए रडार, ज्‍यादा रेंज वाले हथियारों, विंडशील्‍ड पर आधुनिक इंडीकेटर्स, हेलमेट पर पहने जा सकने वाली डिवाइसेज और कॉकपिट में मल्‍टीफंक्‍शनल डिस्‍प्‍ले स्‍क्रीन से लैस किया गया है। कोटिंग की वजह से रडार को दूर से देखा नहीं जा सकता है। इसके बाद जेट की आयु और इसकी सहन शक्ति भी ज्‍यादा समय तक के लिए बढ़ाई गई है।' यह भी पढ़ें-खतरनाक इजरायली बम स्‍पाइस 2000 से लैस होगा वायुसेना का फाइटर जेट सुखोई

अभिनंदन के कारनामे से हैरान दुनिया के पायलट

अभिनंदन के कारनामे से हैरान दुनिया के पायलट

27 फरवरी को जम्‍मू कश्‍मीर के राजौरी जिले के तहत आने वाले सुंदरबनी सेक्‍टर में पाकिस्‍तान एयरफोर्स (पीएएफ) के 24 फाइटर जेट्स दाखिल हुए थे। इनमें से एफ-16 को इंडियन एयरफोर्स (आईएएफ) के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान ने अपने मिग-21 से ढेर कर दिया था। विंग कमांडर अभिनंदन दुनिया के इकलौते फाइटर पायलट हैं जिन्‍होंने मिग-21 से एफ-16 जैसे एडवांस्‍ड और चौथी पीढ़ी के जेट को ढेर किया है। मिग-21 से एफ-16 को ढेर करने के बाद अभिनंदन अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर फाइटर पायलट्स के बीच चर्चा का विषय बने हुए हैं।

अमेरिका भी जुटा क्रैश की जांच में

अमेरिका भी जुटा क्रैश की जांच में

अमेरिका भी जांच कर रहा है कि आखिर पाकिस्‍तान ने भारत के खिलाफ एफ-16 जेट्स का प्रयोग क्‍यों किया? पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोवाल ने अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के एनएसए जॉन बोल्‍टन को ऐसे सुबूत सौंपे थे जिनसे यह साफ होता था कि जम्‍मू कश्‍मीर में पाकिस्‍तान एयरफोर्स के फाइटर जेट एफ-16 दाखिल हुए थे। अमेरिकी विदेश विभाग की ओर से बुधवार को एक बयान जारी किया गया है। इस बयान में कहा गया है कि ऐसा करके पाकिस्‍तान ने उस समझौते का उल्‍लंघन किया है जिसमें इन जेट्स के प्रयोग की सीमा निर्धारित की गई थी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
More power to MiG-21 as Russia upgraded the jet equal to Pak's US-made F-16.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X