• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

ये है दुनिया का सबसे गर्म शहर, जहां गर्भवती महिलाओं की हालत हुई खराब, जानें खास वजह

Google Oneindia News

नई दिल्‍ली, 15 जून: ग्‍लोबल वार्मिंग और अन्‍य कारणों से भारत ही नहीं दुनिया भर के देश भीषण गर्मी की मार झेल रहे हैं। भारत की राजधानी दिल्‍ली समेत अन्‍य राज्‍यों के कई शहरों में इस बार गर्मी में तापमान 50 डिग्री तक पहुंचकर रिेकार्ड बना चुका है लेकिन क्‍या आपको इस बारे में में पता है कि धरती पर सबसे गर्म शहर कौन है और वहां पर लोगों की गर्मी से क्‍या हालत हो रही होगी? आपको जानकर हैरानी होगी यहां पर गर्मी की सबसे अधिक मार गर्भवती महिलाएं झेल रही हैं। जानिए आखिर क्‍यों ?

ये है दुनिया का सबसे गर्म शहर

ये है दुनिया का सबसे गर्म शहर

धरती का सबसे गर्म शहर भारत के पड़ोसी देश पाकिस्‍तान का है, उस शहर का नाम जैकबाबाद है जहां का तापन 51 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच चुका है। पाकिस्‍तान का जैकबाबाद वो शहर है जहां सबसे ज्‍यादा गर्मी पड़ने के बाद वहां के सभी लोग गर्मी से बेहाल हैं लेकिन गर्मवती महिलाओं के लिए ये गर्मी आफत बन कर आई है।

गर्भवती महिलाओं का जीना हुआ मुहाल

गर्भवती महिलाओं का जीना हुआ मुहाल

दरअसल, धरती के सबसे गर्म इस शहर में बहुत गरीबी है जिसके कारण यहां की महिलाओं को तपती गर्मी में अपना और अपने बच्‍चों का पेट पालने के लिए प्रेगनेंसी की हालत में भी काम करना पड़ रहा है। इतना ही नहीं हाल ही में मां बनी महिलाएं अपने बच्‍चों को पास छाव में सुलाकर खेत में मजदूरी करती नजर आ रही हैं।

शख्‍स ने तीन शब्द लिखकर बॉस को थमाया इस्तीफा, Resignation देख लोग बोले 'सच्चा त्यागपत्र'शख्‍स ने तीन शब्द लिखकर बॉस को थमाया इस्तीफा, Resignation देख लोग बोले 'सच्चा त्यागपत्र'

 जलवायु परिवर्तन का खामियाजा माओं को भुगतना पड़ रहा

जलवायु परिवर्तन का खामियाजा माओं को भुगतना पड़ रहा

ये ही कारण है कि धरती के सबसे गर्म शहर में जलवायु परिवर्तन का खामियाजा माओं को भुगतना पड़ रहा है। जलवायु परिवर्तन के मोर्चे पर गरीब देशों में बढ़ते तापमान के लिए महिलाएं विशेष रूप से कमजोर होती हैं क्योंकि कई लोगों के पास अपनी गर्भावस्था के दौरान और जन्म देने के तुरंत बाद काम करने के अलावा कोई विकल्प नहीं होता है। गर्भवती सोनारी भी उन्‍हीं महिलाओं में से एक है जो गर्मी में गर्भवास्‍था में खरबूजों से भरे खेतों में कड़ी मेहनत करती है।

गर्मी में काम करने के कारण जीवन पर खतरा रहा ये खतरा

गर्मी में काम करने के कारण जीवन पर खतरा रहा ये खतरा

लंबे समय तक गर्मी के संपर्क में रहने वाली गर्भवती महिलाओं में जटिलताओं का खतरा अधिक होता है, इस मुद्दे पर 1990 के दशक के मध्य से किए गए 70 अध्ययनों के विश्लेषण में पाया गया। तापमान वृद्धि में प्रत्येक 1 डिग्री सेल्सियस के लिए, मेटा-विश्लेषण के अनुसार, मृत जन्म और समय से पहले प्रसव की संख्या लगभग 5% बढ़ जाती है, जिसे विश्व स्तर पर कई शोध संस्थानों द्वारा किया गया था और सितंबर 2020 में ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित किया गया था।

महिलाओं के स्वास्थ्य पर ग्लोबल वार्मिंग का प्रभाव

महिलाओं के स्वास्थ्य पर ग्लोबल वार्मिंग का प्रभाव

कोलंबिया विश्वविद्यालय में ग्लोबल कंसोर्टियम ऑन क्लाइमेट एंड हेल्थ एजुकेशन के निदेशक सेसिलिया सोरेनसेन ने कहा कि महिलाओं के स्वास्थ्य पर ग्लोबल वार्मिंग का प्रभाव "अत्यधिक कम दस्तावेज" था, आंशिक रूप से क्योंकि अत्यधिक गर्मी अन्य स्थितियों को बढ़ा देती थी।"हम महिलाओं पर स्वास्थ्य प्रभावों को नहीं जोड़ रहे हैं और अक्सर ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हम इस पर डेटा एकत्र नहीं कर रहे हैं और अक्सर गरीबी में महिलाएं चिकित्सा देखभाल की मांग नहीं कर रही हैं।

Comments
English summary
It is difficult for pregnant women to live in the hottest city on earth, know the reason
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X