• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Pulwama Attack के बाद पाकिस्तान को बड़ा झटका! दुनिया की 'डर्टी लिस्ट' में डाला गया नाम, जानिए क्या होगा असर

|

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में भारत ने अपने 45 वीर सपूतों को खो दिया। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली। इस हमले के बाद देश उबल उठा है। लोग पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब देने की मांग कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भरोसा दिलाया है कि जवानों के लहू का एक कतराव्यर्थ नहीं जाएगा। उन्होंने पाकिस्तान को जवाब देने के लिए सैनिकों को पूरी आजादी देने की बात कही है। वहीं भारत ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीन लिया है। 1996 में यह दर्जा पाकिस्तान को भारत ने दिया था। मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीने जाने के बाद अब पाकिस्तान को वैश्विक स्तर पर झटका लगा है।

 डर्टी मनी ब्लैकलिस्ट में शामिल

डर्टी मनी ब्लैकलिस्ट में शामिल

दुनिया के कई देशों ने भी पाकिस्तान से कारोबारी संबंध खत्म करने का इशारा दिया है। टेरर फंडिंग करने और मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामलों में शामिल होने के चलते पाकिस्तान को 'डर्टी मनी ब्लैकलिस्ट' सूची में डाला गया है। यूरोपियन देशों के संगठन यूरोपियन यूनियन ने पाकिस्तान को इस सूची में डालने की बात कही है।

 क्या होगा असर

क्या होगा असर

डर्टी मनी ब्लैकलिस्ट में डाले जाने के बाद पाकिस्तान से कारोबारी संबंध खत्म हो जाएंगे। यूरोपियन यूनियन के सदस्य देशों के बैंकों को चूना लगाने, मनी लॉन्ड्रिंग करने और आतंकियों को आर्थिक मदद के आरोपों के चलते यूरोपियन यूनियन कमीशन ने सऊदी अरब के साथ-साथ पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट किया है। इस लिस्ट में अमेरिका के भी चार क्षेत्र शामिल किए गए हैं। EU की डर्टी-मनी ब्लैकलिस्ट में डाले जाने वाले देश के साथ यूरोपीय देश कारोबारी संबंध खत्म कर देते हैं। इन देशों पर कई और सख्त कदम उठाए जाते है। इस लिस्ट में डाले जाने के बाद पाकिस्तान के कारोबारियों को कारोबार करने में कई परेशानियां होगी। ना तो उन्हें न तो आसानी से कर्ज मिलेगा और न ही उनके के लिए बिजनेस करना भी मुश्किल होगा।

 इस लिस्ट में कौन-कौन

इस लिस्ट में कौन-कौन

EU की इस डर्टी लिस्ट में अफगानिस्तान, दक्षिण कोरिया, इथियोपिया, ईरान, पाकिस्तान, श्रीलंका, सीरिया, त्रिनिदाद एंड टोबैगो, ट्यूनीशिया और यमन भी शुमार है. इसके अलावा लीबिया, बोत्सवाना, घाना और बहामास देश शामिल हैं। अब यूरोपियन कमीशन ने सऊदी अरब, पनामा और चार अमेरिकी टेरिटरी को डर्टी-मनी ब्लैकलिस्ट नेशंस की सूची में डाल दिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The European Union on Thursday issued a press release in which it said that it has proposed to place Pakistan and 22 other countries in list of states with “strategic deficiencies in their anti-money laundering and counter-terrorist financing frameworks.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X