• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Coronavirus: चीन की वुहान लैब में हुई कोरोना दवाई की टेस्टिंग, मेजर जनरल ने बिना टेस्ट के खुद को किया इंजेक्ट

|

बीजिंग। चीन के वुहान से निकला जानलेवा कोरोना वायरस अब दुनिया के 60 देशों तक पहुंच गया है। इन सबके बीच अब ऐसी खबरें भी आ रही हैं चीन पीपुल्‍स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) की एक मेजर जनरल ने अपनी वफादारी साबित करने के लिए एक वैक्‍सीन से खुद को इंजेक्‍ट किया है। जो बात सबसे अहम है वह है कि इस दवाई को जानवरों पर टेस्‍ट नहीं किया गया था। यानी इस ऑफिसर ने बिना टेस्‍ट की हुई मेडिसन का प्रयोग किया है। चीन इस मेजर जनरल का नाम छेन वेई है और यह देश की टॉप एपिडोमियोलॉजिस्‍ट हैं। मेजर जनरल छेन वुहान लैब में ही हैं।

यह भी पढ़ें-Factcheck:500 साल पहले ही हो गई थी कोरोना वायरस की भविष्‍यवाणी!

छेन और छह और लोगों को लगा इंजेक्‍शन

छेन और छह और लोगों को लगा इंजेक्‍शन

मेजर जनरल वेई इसी वुहान लैब में काम कर रही थीं जब वुहान में कोरोना वायरस के फैलने की खबरें आई थीं। इस बात की आशंका जताई जा रही है कि कोविड-19 एक ऐसा वायरस है जिसे चीन ने वुहान की लैब में तैयार किया गया था। कहा जा रहा है कि छेन वेई और उनकी टीम के छह सदस्‍यों को अनटेस्‍टेड कोरोना वायरस वैक्‍सीन लगाई गई है। बताया जा रहा है कि यह कदम सेना के लिए वफादारी साबित करने के मकसद से उठाया गया है।

    Coronavirus को लेकर आई Good News, China ने Vaccine बनाने का किया दावा | वनइंडिया हिंदी
    चीन ने तलाश ली है दवाई!

    चीन ने तलाश ली है दवाई!

    मंगलवार को चीन की मीडिया ने दावा किया है कि छेन वई की अगुवाई वाली रिसर्च टीम कोरोना वायरस की दवाई तलाशने की दिशा में काम कर रही है। वेई के पास सार्स और इबोला जैसे वायरस संकट के लिए वैक्‍सीन डेवलप करने का अनुभव है। पिछले एक माह से मेजर वेई और उनकी टीम जिसमें मिलिट्री मेडिकल एक्‍सपर्ट्स शामिल हैं, वह पिछले एक माह से वुहान की लैब में काम कर रहे हैं। वेई की टीम लगातार इस बात की कोशिश कर रही है कि जल्‍द से जल्‍द वैक्‍सीन को डेवलप कर लिया जाए।

    छेन की टीम के हाथ कामयाबी!

    छेन की टीम के हाथ कामयाबी!

    चीन की मीडिया ने कहा है कि छेन की टीम ने नोवोल कोरोना वायरस से निबटने के लिए एक दवाई तैयार कर ली है। छेन ने चीन के सरकारी न्‍यूज चैनल सीसीटीवी को बताया है कि सभी लोग इस दिशा में काम कर रहे हैं कि कैसे जल्‍द से जल्‍द इस नाजुक मौके पर वैक्‍सीन को डेवलप किया जा सके।

    कौन हैं मेजर जनरल छेन

    कौन हैं मेजर जनरल छेन

    छेन की उम्र 53 साल है और उन्‍हें साल 2014 में इबोला के दुनिया की पहली जीन बेस्‍ड वैक्‍सीन तैयार करने का श्रेय दिया जाता है। बायें हाथ में छेन को इंजेक्‍शन लगाने वाली फोटोग्राफ्स तेजी से वायरल हो रही हैं। फोटोग्राफ में पीएलए के छह और सदस्‍य नजर आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि बाद में यही इंजेक्‍शन इन्‍हें भी दिया गया है।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Coronavirus: A Chinese Major General from Wuhan lab injects untested vaccine to prove loyalty.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X