• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

तिब्‍बत में 146 बिलियन डॉलर के निवेश प्रोजेक्‍ट्स शुरू करने के लिए तैयार चीन

|

बीजिंग। भारत के साथ लद्दाख बॉर्डर पर लगातार चीन का तनाव बढ़ता जा रहा है। इसी तनाव के बीच चीन ने अब तिब्‍बत में बड़े निवेश का फैसला किया है। एक रिपोर्ट की मानें तो तिब्‍बत में चीन इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर प्रोजेक्‍ट्स के जरिए करीब 146 बिलियन डॉलर के निवेश की योजना बना चुका है। इस निवेश का मकसद अग्रिम मोर्चे पर सुरक्षा को और बढ़ाना है। गौरतलब है कि तिब्‍बत की सीमा लद्दाख से सटी है।

jinping

यह भी पढ़ें-चीन ने लद्दाख में हालातों के लिए भारत को बताया जिम्‍मेदार

रेलवे सर्विस से जुड़ेगा तिब्‍बत

न्‍यूज एजेंसी रॉयटर्स की तरफ से बताया गया है कि चीन की तरफ से जिन प्रोजेक्‍ट्स को लॉन्‍च करने का फैसला किया गया है, उसमें कुछ नए हैं तो कुछ पुराने हैं। दक्षिणी-पूर्वी हिस्‍से में स्थित तिब्‍बत में भारत के खिलाफ सेनाओं को मजबूत करने के मकसद से राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग की तरफ से प्रोजेक्‍ट्स को हरी झंडी दी गई है। सूत्रों की मानें तो पिछले ही हफ्ते सीनियर कम्‍युनिस्‍ट पार्टी मीटिंग के दौरान तिब्‍बत की भावी सरकार के साथ ही जिनपिंग ने उपलब्धियों को सराहा। साथ ही उन्‍होंने उन ऑफिसर्स की तारीफ की जो यहां पर तैनात हैं। साथ ही यह भी कहा कि इस क्षेत्र को और मजबूत बनाने की जरूरत है। इसी दौरान जिनपिंग ने कई इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर प्रोजेक्‍ट्स और आम जन-सुविधाओं को पूरा किया जाएगा जिसमें सिचुआन-तिब्‍बत रेल प्रोजेक्‍ट भी शामिल है। शिन्‍हुआ न्‍यूज एजेंसी की तरफ से जिनपिंग की टिप्‍पणियों को जगह दी गई थी।

नेपाल को भी तिब्‍बत से जोड़ने की तैयारी

जिन निर्माण प्रोजेक्‍ट्स का जिक्र जिनपिंग ने किया है उसमें नेपाल से तिब्‍बत के बीच भी रेल लिंक शामिल है। इस रेल लिंक पर प्‍लानिंग जारी है। फिलहाल अभी तक यह साफ नहीं हो सका है कि कितना राशि को कब तक खर्च किया जाएगा या प्रोजेक्‍ट्स की डेडलाइन क्‍या होगी। चीन के स्‍टेट काउंसिल की तरफ से भी कुछ कहने से साफ इनकार कर दिया गया है। चीन सरकार से जुड़े सूत्रों की तरफ से बताया गया है कि आने वाले दिनों में सिचुआन-तिब्‍बत रेलवे जो चेंगदू को ल्‍हासा से जोड़ेगी उस पर काम शुरू हो जाएगा। तिब्‍बत-नेपाल को भी रेल लिंक से जोड़ने पर तेजी से काम शुरू किया जाने वाला है। साल 2018 में चीन औश्र नेपाल के बीच काठमांडू को शिगात्‍से से जोड़ने पर एक द्विपक्षीय समझौता हुआ था। शिगात्‍से, तिब्‍बत की दूसरी सबसे बड़ी सिटी है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
China to invest 146 billion dollar for infra projects in Tibet amid tensions with India.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X