• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

हिंदुओं के गांव पर भीड़ का हमला, 80 से ज्यादा घर तोड़े, जमकर की लूटपाट

|
Google Oneindia News

ढाका: इस्लामिक देशों में अल्पसंख्यकों के साथ कैसा सलूक किया जाता है, ये बात किसी से छिपी नहीं है। पाकिस्तान और बांग्लादेश जैसे देश हिन्दुओं पर हिंसा के लिए कुख्यात हैं। पाकिस्तान में हर तीसरे दिन किसी ने किसी हिन्दू बेटी को अगवा किया जाता है तो धर्मपरिवर्तन की घटना अब पाकिस्तान के लिए अखबार की पहली हेडलाइंस भी नहीं रही हैं। लेकिन, बांग्लादेश में शुक्रवार को जिस तरह से हिन्दुओं के एक गांव पर हमला किया गया है उसने भारत पर हमला कर कत्लेआम मचा देने वाले लुटेरा मुहम्मद गोरी की याद दिला दी। बांग्लादेश में अल्पसंख्यक हिन्दुओं के एक गांव पर कट्टरपंथी मुस्लिमों की भीड़ ने हमला कर दिया और जमकर लूटपाट मचाई। कई लोगों ने इस हमले की तुलना मुहम्मद गोरी से करनी शुरू कर दी है, जिसने भारत में आक्रमण करने के बाद जमकर लूटपाट मचाई थी।

हिन्दुओं के गांव पर हमला

हिन्दुओं के गांव पर हमला

बांग्लादेशी अखबार ढाका ट्रिब्यून के मुताबिक बांग्लादेश के पूर्वोत्तर में स्थित सिलहट डिवीजन में हिन्दुओं के गांव पर हमला किया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक हमला एक इस्लामिक गुट के सैकड़ों समर्थकों ने किया था। अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक हमलावरों ने गांव में जमकर उत्पात मचाई है और गांव के 80 से ज्यादा घरों को पूरी तरह से तोड़ डाला है वहीं गांव में जमकर लूटपाट की गई है। हमलावरों को जो मिला उसने वही लूट लिया। अखबार के मुताबिक जान बचाने के लिए हिन्दू समुदाय के लोग इधर उधर भागते और छिपते दिखाई दे रहे थे।

मौलाना ने हिंसा के लिए भड़काया

मौलाना ने हिंसा के लिए भड़काया

बांग्लादेशी अखबार ढाका ट्रिब्यून के मुताबिक एक फेसबुक पोस्ट के बाद ये बवाल शुरू हुआ था। अखबार ने लिखा है कि हिफाजत-ए-इस्लाम के अमीर अल्लामा जुनैद बाबूनगरी, संयुक्त महासचिव मौलाना मुफ्ती मामुनुल हक और कई नेताओं ने सोमवार को डेरा उपजिला में एक जलसे में भाग लिया था। जिसमें मौलाना मुफ्ती मामुनुल हक ने एक भाषण दिया था। हालांकि, भाषण में उसने क्या कहा, ये रिपोर्ट में नहीं है। मगर, अखबार के मुताबिक मौलाना के भाषण की आलोचना गांव के एक हिन्दू युवा ने फेसबुक पर की थी। जिसके बाद मुसलमानों ने हिन्दुओं के पूरे गांव पर हमला कर दिया। अखबार के मुताबिक गांव के कई हिन्दू अभी भी जान बचाने के लिए गांव से भागे हुए हैं।

2000 से ज्यादा की थी भीड़

2000 से ज्यादा की थी भीड़

बांग्लादेशी अखबरों के मुताबिक हिन्दुओं के गांव पर 2000 से ज्यादा मुस्लिमों ने हमला किया था। और उन्हें हमला करने के लिए भड़काया गया था। हमलावरों ने हाथ में लाठी-डंडे और खतरनाक हथियार ले रखे थे और रातभर हमलावरों ने पूरे गांव में जमकर उत्पात मचाया। वहीं, अब पीड़ित अल्पसंख्यक हिन्दुओं को एक टेंट में रखा गया है और प्रशासन की तरफ से उनके रहने खाने की व्यवस्था की गई है।

मौलाना की गिरफ्तारी की मांग

मौलाना की गिरफ्तारी की मांग

अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक हिन्दुओं के गांव पर हुए हमले के बाद हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग की जा रही है। अभी तक पुलिस ने 1500 से ज्यादा अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है वहीं अभी तक 30 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने उस हिन्दू युवा को भी गिरफ्तार किया है, जिसने अपने फेसबुक पोस्ट में मौलाना की निंदा की थी।

गिरफ्तारी के लिए छापेमारी

गिरफ्तारी के लिए छापेमारी

बांग्लादेश पुलिस के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के मुताबिक बांग्लादेश पुलिस के विशेष दलों को हिन्दुओं के गांव में सुरक्षा के लिए तैनात किया गया है। वहीं, मौलाना के खिलाफ फेसबुक पोस्ट लिखने वाले हिन्दू युवा को गिरफ्तार किया गया है और हिन्दुओं के गांव पर हमला करने वाले 30 हमलावरों को गिरफ्तार करने की बात पुलिस ने की है।

'किलर' कहने पर व्लादिमीर पुतिन ने जो बाइडेन को दी LIVE बहस की चुनौती, अमेरिका ने कहा- अफसोस नहीं'किलर' कहने पर व्लादिमीर पुतिन ने जो बाइडेन को दी LIVE बहस की चुनौती, अमेरिका ने कहा- अफसोस नहीं

Comments
English summary
The village of Hindus in Bangladesh was attacked by Muslim fundamentalists. More than 80 houses have been demolished.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X