• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

क्या आप एलियन पर विश्वास करते हैं? पांच खुफिया और स्पेस एजेंसी प्रमुख, जो मानते हैं कि एलियंस मौजूद हैं

एक सवाल ये भी हमारे मन में उठता है, कि हम कौन हैं, हम कहां से आए हैं और क्या पृथ्वी के अलावा भी किसी और ग्रह पर कोई जिंदगी रहती है? अब तक हमने अपने ग्रह से 30 अरब प्रकाश वर्ष तक के दायरे की खोज की है और कुछ भी नहीं मिला.
Google Oneindia News

वॉशिंगटन, जून 17: पूरी दुनिया के लोग उस दिन का इंतजार कर रहे हैं, जब हम एक ब्रेकिंग न्यूज की कहानी सुने, कि नासा के एक उच्च रैंकिंग अधिकारी ने दावा किया है, कि आखिरकार उन्होंने अन्य ग्रहों पर जीवन की खोज की है। लंबे समय से हम एलियंस से मिलने के लिए अपने आप को मानसिक रूप से खुद को तैयार कर रहे हैं, जिनकी हमने लंबे समय से कल्पना की है कि ये राजसी, खगोलीय प्राणी हैं जो शायद हमसे काफी ज्यादा उन्नत हैं और जिनके पास शायद ऐसी शक्तियां हैं, जो पृथ्वी को भी खत्म कर सकती हैं।

इंसानों के मन में उठते सवाल

इंसानों के मन में उठते सवाल

एक सवाल ये भी हमारे मन में उठता है, कि हम कौन हैं, हम कहां से आए हैं और क्या पृथ्वी के अलावा भी किसी और ग्रह पर कोई जिंदगी रहती है? अब तक हमने अपने ग्रह से 30 अरब प्रकाश वर्ष तक के दायरे की खोज की है और कुछ भी नहीं मिला है, लेकिन अभी भी काफी कुछ मौजूद है, जहां हमने अभी तक खोज नहीं की है। फिर भी पांच खुफिया और अंतरिक्ष एजेंसी के प्रमुख, जो अमेरिका, ब्रिटेन, इज़राइल और रूस से हैं, उन्होंने कहा है कि वे पहले से ही विश्वास करने के लिए पर्याप्त सबूत देख चुके हैं, कि एलियंस मौजूद हैं, संभवतः हमें आने वाले वक्त में उनको लेकर काफी खतरनाक जानकारियां मिली हैं। आइये जानते हैं, उन खुफिया एजेंसी के प्रमुखों और स्पेस एजेंसी के प्रमुख कौन हैं और उन्होंन एलियंस को लेकर क्या दावे किए हैं?

पूर्व सीआईए निदेशक जेम्स वूल्सी

पूर्व सीआईए निदेशक जेम्स वूल्सी

अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के पूर्व डायरेक्टर जेम्स वूल्सी, जिन्होंने 1993 से 1995 के बीच सीआईए के प्रमुख के रूप में काम किया, उन्होंने 2021 में ब्लैक वॉल्ट को बताया कि, उन्हें 40 हजार फीट पर उड़ान भरते वक्त उन्होंने एयरफ्रेम को देखा था और फिर हमने उसका पीछा किया था, लेकिन हम उसका पीछा नहीं कर पाए। उन्होंने कहा था कि, उस वक्त उनके साथ एयरक्राफ्ट में उनका दोस्त भी मौजूद था। उन्होंने दावा करते हुए कहा था कि, 'इस तरह की पर्याप्त चीजें हुई हैं, जो मुझे लगता है कि कई महीनों या वर्षों के दौरान क्या हो रहा है, इसकी बहुत जांच होनी चाहिए'। उन्होंने कहा कि, अब मैं पिछले कुछ साल पहले की तरह इस मामले में संशय में नहीं हूं। क्योंकि, अमेरिका के कई बुद्धमान और अनुभवी पायलट्स ने भी इस आश्चर्य को देखा है।

पूर्व सीआईए डायरेक्टर जॉन ब्रेनन

पूर्व सीआईए डायरेक्टर जॉन ब्रेनन

अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईएम के पूर्व डायेक्टर जॉन ब्रेनन ने भी एलियंस को लेकर प्रमुखता से अपना विश्वास जताया है और वो दूसरे ऐसे सीआईए डायरेक्टर थे, जिन्होंने दावा किया, कि एलियंस मौजूद हैं। जॉन ब्रेनन साल 2013 से 2017 के बीच अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के प्रमुख के तौर पर काम कर चुके हैं और दिसंबर 2020 में उन्होंने एक पॉडकास्ट कार्यक्रम में बोलते हुए कहा था कि, 'ये सिर्फ हमारा घमंड हो सकता है, कि इस ब्रह्मांड में हम अकेले हैं'। उन्होंने कहा था कि, 'मुझे लगता है कि हम जिन कुछ घटनाओं को देखने जा रहे हैं, वे अभी भी अस्पष्ट हैं और वास्तव में, वो किसी प्रकार की घटना हो सकती है, जो किसी ऐसी चीज का परिणाम है जिसे हम अभी तक नहीं समझते हैं और इनमें से कई ऐसी गतिविधियां हैं, जो हमारे जीवन से बहुत अलग है'।

पूर्व ब्रिटिश खुफिया एजेंसी के चीफ जॉन सॉवर्स

पूर्व ब्रिटिश खुफिया एजेंसी के चीफ जॉन सॉवर्स

ब्रिटिश खुफिया एजेंसी एमआई-6 के पूर्व डायरेक्टर सर जॉन सॉवर्स भी एलियंस के अस्तित्व में विश्वास करते हैं। साल 2019 में लंदन में डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन एक्सपो में अपने विचार साझा करते हुए पूर्व ब्रिटिश खुफिया डायरेक्टर, जो साल 2009 से 2014 तक सीक्रेट इंटेलिजेंस सर्विस के प्रमुख थे, उन्होंने कहा कि, ब्रह्मांड के अनंत आकार का मतलब यह होगा " असाधारण" यदि तुलनीय जीवन कहीं और मौजूद नहीं है। उन्होंने कहा: "मुझे लगता है कि यह असाधारण होगा यदि एक अनंत सौर मंडल में सिर्फ पृथ्वी ही अद्वितीय ग्रह है'। उन्होंने कहा कि, हमें इस धारणा के साथ आगे बढ़ना चाहिए, कि इस ब्रह्मांड पर कुछ भी अद्वितीय नहीं है।"

इजरायल के पूर्व स्पेस चीफ का दावा

इजरायल के पूर्व स्पेस चीफ का दावा

इजरायली रक्षा मंत्रालय के स्पेस स्टेशन के पूर्व डायरेक्टर हैम ईशेड, जिन्होंने साल 2007 से 2011 तक अपने देश के लिए काम किया है, जो दिसंबर 2020 से इजरायली वैमानिकी इंजीनियरिंग के प्रोफेसर हैं, उन्होंने एलियंस के अस्तित्व होने का दावा किया है। उन्होंने ना केवल एलियंस के होने, बल्कि यहां तक दावा किया है, कि जितना इंसानों को एलियंस के बारे में जानने, देखने और उन्हें समझने की दिलचस्पी है, उतनी ही दिलचस्पी एलियंस में भी इंसानों को लेकर है। उन्होंने येडियट अहरोनोट अखबार को बताया था कि, मानव और एलियंस ने पहले से ही एक गुप्त समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं, जिसमें "मंगल की गहराई में भूमिगत आधार" शामिल है, जहां अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री और विदेशी प्रतिनिधि हैं। उन्होंने सनसनीखेज दावा करते हुए यहां तक कहा कि, अभी तक एलियंस और इंसानों के बीच आखिरी समझौता नहीं हुआ है, जहां वो इस सौदे के बारे में घोषणा कर सकें।

रूसी अंतरिक्ष एजेंसी के प्रमुख भी कर चुके दावा

रूसी अंतरिक्ष एजेंसी के प्रमुख भी कर चुके दावा

रूसी अंतरिक्ष एजेंसी के प्रमुख दिमित्री रोगोज़िन भी एलियंस को लेकर दावा कर चुके हैं। दिमित्री रोगोज़िन, जो रूस की अंतरिक्ष एजेंसी, रोस्कोसमोस के महानिदेशक हैं, उन्होंने हाल ही में एक रूसी टेलीविजन साक्षात्कार में कहा कि कुछ यूएफओ देखे जाने के लिए एलियंस को जिम्मेदार ठहराया जा सकता है, हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि, 99.9 प्रतिशत वायुमंडलीय और अन्य भौतिक घटनाएं हैं।" RT के अनुसार, दिमित्री रोगोज़िन ने Rossiya-24 समाचार को बताया कि, कई चीजों पर अभी रिसर्च किया जाना बाकी है और हम बैक्टीरिया पर रिसर्च कर सकते हैं, लेकिन हम भी बैक्टीरिया की ही तरह रिसर्च किए जा रहे हैं।

चीन ने पहले किया एलियंस के सिग्नल पकड़ने का दावा, फिर रिपोर्ट किया डिलीट, क्या छिपा रहे जिनपिंग?चीन ने पहले किया एलियंस के सिग्नल पकड़ने का दावा, फिर रिपोर्ट किया डिलीट, क्या छिपा रहे जिनपिंग?

Comments
English summary
Do you believe in aliens? Know about the five space agency and intelligence chiefs who believe in the existence of aliens.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X