• search
इंदौर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

MP : कम लागत में किसानों को मिलेगा बंपर उत्पादन, प्रशिक्षण कार्यक्रम में सिखाई खास तकनीक

Google Oneindia News

इंदौर, 1 अक्टूबर : इंदौर जिले में फल, सब्जी एवं अन्य उद्यानिकी फसलों की खेती करने वाले किसानों को कम लागत में अधिक उत्पादन प्राप्त करने और उत्पादन को बेहतर दाम में बेचकर आर्थिक उन्नति के विभिन्न तौर तरीके सिखाये जा रहे हैं। इसी क्रम में तीन दिवसीय संभाग स्तरीय कृषक प्रशिक्षण कार्यक्रम संपन्न हुआ। क्षेत्रीय ग्रामीण विकास तथा पंचायत राज प्रशिक्षण केंद्र इंदौर में संपन्न हुए इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में मुख्य रूप से किसानों को लहसुन, प्याज, मिर्च की उन्नत खेती, भण्डारण, विपणन प्रसंस्करण उद्योग एवं निर्यात की संभावनाओं की जानकारी दी गई।

indore

कुछ तरह दिया गया प्रशिक्षण

यह प्रशिक्षण कार्यक्रम उद्यानिकी तथा खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा राज्य योजनान्तर्गत आयोजित किया गया। जिसमें प्रशिक्षण के अंतिम दिवस पर मुख्य अतिथि एवं मुख्य वक्ता के रूप में भारतीय प्रशासनिक सेवा के सेवानिवृत्त वरिष्ठ अधिकारी डॉ. रविन्द्र पस्तोर उपस्थित रहे। स्वागत भाषण संयुक्त आयुक्त प्रतीक सोनवलकर द्वारा दिया गया, जिसमें उन्होंने तीन दिवसीय प्रशिक्षण के बारे में विस्तृत जानकारी दी। तदुपरांत संयुक्त संचालक उद्यान डी आर जाटव द्वारा योजना के महत्व के संबंध में जानकारी दी गई।

इन विषयों को लेकर दिया गया प्रशिक्षण

कार्यक्रम के अगले क्रम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र सिंह द्वारा कृषकों को आधुनिक खेती पर मार्गदर्शन दिया गया। इंदौर जिले के प्रगतिशील कृषक मुकेश सोमानी द्वारा प्याज और लहसुन की ग्रेडिंग, भंडारण और मार्केटिंग के संबंध में कृषकों को अवगत कराया गया। मुख्य अतिथि एवं प्रमुख वक्ता के रूप में उपस्थित डॉ. रविन्द्र पस्तोर द्वारा कृषकों से सर्वप्रथम उनकी समस्याओं को जाना और क्रम अनुसार उनकी समस्याओं के समाधान के उपाय बताए। उन्होंने कृषको को फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी बनाने की सलाह भी दी। उन्होंने कृषकों को अवगत कराया कि कृषि को एक बिजनेस की तरह करें। आज कृषि सिर्फ जीविका उपार्जन का साधन मात्र नहीं हैं। उन्होंने कृषकों को एक जैसी फसल और एक ही प्रजाति, एक जैसी दवाई, खाद आदि उपयोग करने की सलाह दी, ताकि उनके खर्च में कमी आये। अपने उत्पादन की बड़ी मात्रा को स्वयं कृषक उत्पादक समूह के माध्यम से बेच कर आत्मनिर्भर हो सके। कार्यक्रम के अंत में सहायक संचालक उद्यान के.के. गिरवाल द्वारा आभार व्यक्त किया गया।

लगातार आयोजित हुए प्रशिक्षण कार्यक्रम

मध्य प्रदेश में इन दिनों कृषि सेवा को आगे बढ़ाने और कृषकों को फायदा दिलाने के उद्देश्य से लगातार कृषि से जुड़े प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है, जहां किसानों को अलग-अलग तरीकों से उत्पादन बढ़ाने के तौर-तरीके सिखाए जा रहे हैं। वहीं इस बीच मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में भी कृषकों के लिए इसी तरह का प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जहां कृषकों को कृषि से जुड़े तौर तरीके और तकनीक समझाई और सिखाई गई।

ये भी पढ़े- स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में इंदौर ने मारी बाजी, अबकी बार इस कारण मिला नंबर 1 का खिताबये भी पढ़े- स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में इंदौर ने मारी बाजी, अबकी बार इस कारण मिला नंबर 1 का खिताब

Comments
English summary
Farmers will get more production at less cost, Indore, Madhya Pradesh
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X