• search

Tripura: भाजपा समर्थकों ने बुल्डोजर से तोड़ी व्लादिमीर लेनिन की मूर्ति, देखें Video

Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
      Tripura में BJP Supporters ने तोड़ी Vladimir Lenin की मूर्ति, Watch Video । वनइंडिया हिंदी

      अगरतला। त्रिपुरा विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने शानदार विजय हासिल की है , पूरी भाजपा इस वक्त जीत के जश्न में डूबी है लेकिन इसी बीच एक खबर ने सबको चौंका दिया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक बीजेपी समर्थकों ने साउथ त्रिपुरा डिस्ट्रिक्ट के बेलोनिया सबडिविजन में बुलडोज़र की मदद से रूसी क्रांति के नायक व्लादिमीर लेनिन की मूर्ति को ढहा दिया है, जिसके बाद वहां तनाव की स्थिति पैदा हो गई है क्योंकि साम्यवादी विचारधारा के हीरो लेनिन की मूर्ति तोड़े जाने के बाद से वामपंथी दल  काफी नाराज है और उसने इसके लिए बीजेपी पर संगीन आरोप लगाए हैं।

      Video: भाजपा समर्थकों ने तोड़ी व्लादिमीर लेनिन की मूर्ति

      इस घटना के बाद से राज्य से कई जगहों पर तोड़फोड़ और मारपीट की खबर है, सीपीआई(एम) ने इन सारी बातों के लिए भाजपा को जमकर कोसते हुए आरोप लगाया है कि भाजपा जानबूझकर हिंसा की राजनीति कर रही है, बीजेपी-आइपीएफटी कार्यकर्ता जानबूझकर वामपंथी स्मारकों को तोड़ रहे हैं।

      लेनिन की मूर्ति ढहाते वक्त लोगों का एक वीडियो भी सामने आया

      इसी बीच व्लादिमीर लेनिन की मूर्ति ढहाते वक्त लोगों का एक वीडियो भी सामने आया है। एनएनआई के इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि जो लोग मूर्ति को ढहा रहे हैं, वो लोग 'भारत माता की जय' के नारे लगा रहे हैं। ये घटना सोमवार दोपहर करीब 3.30 बजे के आस-पास की बताई जा रही है। सीपीआई(एम) ने ये भी कहा है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बुलडोजर के ड्राइवर को शराब पिलाकर उससे नशे में ये पाप करवाया है। फिलहाल पुलिस ने ड्राइवर को अरेस्ट कर लिया है और बुलडोजर को भी कब्जे में ले लिया है।

      जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

      देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
      English summary
      Tripura BJP supporters bulldoze Lenin statue,While the CPI(M), which lost power in the state after 25 years, described the incident as an example of “Communism phobia”, the BJP claimed that the statue was brought down by people “oppressed” by the Left.

      Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
      पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

      X
      We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more