• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कौन हैं BJP के वो 3 दिग्गज नेता, जिन्हें संसदीय कार्यकारिणी में नहीं मिली जगह

|
    PM Modi के ये हैं 3 सबसे बड़े और भरोसेमंद Officers, WATCH VIDEO | वनइंडिया हिंदी

    नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार को अपने संसदीय दल की कार्यकारी समिति का ऐलान कर दिया। भाजपा संसदीय दल की कार्यकारिणी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लोकसभा में पार्टी का नेता चुना गया। वहीं, केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को लोकसभा में पार्टी का उपनेता चुना गया है। इनके अलावा राज्यसभा में थावर चंद गहलोत को पार्टी का नेता और पीयूष गोयल को उपनेता चुना गया। इस तरह लोकसभा में राजनाथ सिंह दूसरे नंबर के नेता होंगे। थावर चंद गहलोत राज्यसभा में अरुण जेटली और पीयूष गोयल केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की जगह लेंगे। हालांकि इस समिति में पार्टी के तीन बड़े नेताओं के नाम शामिल नहीं किए गए है।

    ये हैं वो तीन नेता, जिन्हें नहीं मिली जगह

    ये हैं वो तीन नेता, जिन्हें नहीं मिली जगह

    भाजपा संसदीय दल की नई कार्यकारिणी में पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी के नाम शामिल नहीं हैं। दरअसल ये तीनों नेता ही इस बार लोकसभा चुनाव नहीं लड़े थे। ऐसा पहली बार है जब संसदीय कार्यकारिणी समिति में लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी नहीं हैं। इन तीनों के अलावा अरुण जेटली को भी कार्यकारिणी समिति में नहीं रखा गया है। इस बार के लोकसभा चुनाव में लालकृष्ण आडवाणी की सीट गांधीनगर से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और मुरली मनोहर जोशी की सीट कानपुर से सत्यदेव पचौरी चुनाव लड़े थे। वहीं, सुषमा स्वराज ने भी विदिशा सीट से चुनाव लड़ने से मना कर दिया था।

    ये भी पढ़ें- राजस्थान: 16 में से 8 सीटें जीती कांग्रेस, 5 सीटों पर सिमटी BJP

    इन्हें बनाया गया उत्तर प्रदेश का सचेतक

    इन्हें बनाया गया उत्तर प्रदेश का सचेतक

    भारतीय जनता पार्टी ने संसदीय दल की नई कार्यकारिणी में सांसद अजय मिश्रा, भानुप्रताप सिंह और पंकज चौधरी को उत्तर प्रदेश का सचेतक बनाया गया है। इनके अलावा प्रवेश वर्मा को उत्तराखंड-दिल्ली का सचेतक, किरीट सोलंकी को गुजरात का सचेतक और जुगल किशोर शर्मा को जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, पंजाब व हरियाणा का सचेतक बनाया गया है। वहीं, लोकसभा के विशेष आमंत्रित सदस्यों में नितिन गडकरी, रविशंकर प्रसाद, अर्जुन मुंडा, नरेंद्र सिंह तोमर, स्मृति ईरानी और जुएल ओराम को रखा गया है। जेपी नड्डा, ओमप्रकाश माथुर, निर्मला सीतारमण, धर्मेंद्र प्रधान और प्रकाश जावड़ेकर को राज्यसभा में विशेष आमंत्रित सदस्यों में शामिल किया गया है।

    17 जून से संसद का बजट सत्र शुरू

    17 जून से संसद का बजट सत्र शुरू

    संसदीय कार्यकारिणी समिति में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और अमेठी सीट पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को हराने वालीं स्मृति ईरानी को भी शामिल किया गया है। इनके अलावा लोकसभा में पार्टी के मुख्य सचेतक की जिम्मेदारी प्रह्लाद जोशी और उप मुख्य सचेतक की जिम्मेदारी अर्जुन राम मेघवाल को दी गई है। एम मुरलीधरन को राज्यसभा में मुख्य सचेतक और नारायण लाल पंचारिया को उप मुख्य सचेतक बनाया गया है। कैलाश विजयवर्गीय को संसदीय दल के प्रभारी की भूमिका दी गई है। आपको बता दें कि 17 जून से संसद का बजट सत्र शुरू हो रहा है।

    टारगेट पूरे करने में जुटे मंत्रालय

    टारगेट पूरे करने में जुटे मंत्रालय

    गौरतलब है कि बंपर जनादेश के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नई सरकार ने अपना कार्यभार संभाल लिया है। मंत्रियों के विभागों का बंटवारा भी हो चुका है और लगभग सभी मंत्रालय अपनी आगे की रणनीति को लेकर जुट चुके हैं। इससे पहले सोमवार को सभी मंत्रालयों के सचिवों की एक बैठक हुई, जिसमें सरकार की ओर से मंत्रालयों को दिए गए टारगेट की जानकारी दी गई। इसके बाद मंत्रालयों में आगामी कामकाज को लेकर तैयारी शुरू हो गई। इस बार मोदी सरकार में जिन योजनाओं पर खास फोकस किया है, उनमें देश के किसानों की आय दोगुनी करना और सबको पक्का घर देने की भी योजना प्रमुख रूप से शामिल है।

    ये भी पढ़ें- 'हमारे सर पर मां दुर्गा का हाथ था, इसलिए मंदिर में रेप करने वालों को सलाखों तक पहुंचाया'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Three Big BJP Leader Names Not In BJP Parliamentary Executive Committee.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X