• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

फिक्की ने PM के आर्थिक पैकेज का किया स्वागत, कहा-पैकेज भारत के बड़े सपनों को ताकत देगा

|

मुंबई। कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज का उद्योग संगठन फिक्की (फिक्की) ने स्वागत किया है। वित्त मंत्री द्वारा पैकेज की जानकारी साझा करने पर फिक्की की प्रेसिडेंट डॉ. संगीता रेड्डी ने कहा कि, वित्त मंत्री की घोषणाएं सुनकर यह भरोसा जगा है कि सरकार कोरोना की आंधी से मजबूती के साथ बाहर निकालने में आगे आकर नेतृत्व करेगी।

this package strengthens the dream of a strong India. It’s a good step towards a great India: FICCI

फिक्की की अध्यक्ष डॉ. संगीता रेड्डी ने आर्थिक पैकेज के ऐलान पर कहा कि हम इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का शुक्रिया करते हैं। भारत के लिए ये वक्त है कि जब बड़ा सोचा जाए, ये पैकेज भारत के बड़े सपनों को ताकत देता है। सरकार की ओर से ये काफी शानदार कदम उठाया गया है। उन्होंने अपने बयान में कहा कि हमें उम्मीद है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा इस पैकेज का इस्तेमाल गरीब, मजदूरों के साथ-साथ छोटे कारोबारियों, उद्योगपतियों के लिए भी किया जाएगा।

    Nirmala Sitharaman: EPFO खाताधारकों को दी राहत, अब अगले 3 महीने का PF भी देगी सरकार | वनइंडिया हिंदी

    आत्मनिर्भर भारत को लेकर संगीता रेड्डी बोलीं कि लैंड, लेबर और लिक्वीडिटी में बदलाव ही काफी महत्वपूर्ण है। फिक्की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत अभियान का पूरा समर्थन करेगा. साथ ही जो पांच पिलर पीएम ने बताएं हैं, उनको मजबूत करने पर काम करेगा। इंडस्ट्री चैंबर फिक्की की ओर से भी अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के लिए तत्काल रूप से 5 लाख करोड़ रुपये की मांग की गई थी, लेकिन पीएम ने कुल 20 लाख करोड़ का ऐलान किया जिससे फिक्की गदगद है।

    गौरतलब है कि कोरोना संकट में लॉकडाउन के चलते देश की इकोनोमी को काफी हद तक ध्वस्त हो गई है। घरेलू उद्योग जगत इकोनोमी के चक्के को तेज चलाने और लक्ष्य को बढ़ाने को भी तैयार है लेकिन उनका मानना था कि अब केंद्र सरकार भी इसमें भारी भरकम आर्थिक मदद करे। हाल ही में भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग महासंघ (फिक्की) ने उद्योग जगत को लेकर जीडीपी का 5 फीसदी, लगभग 9 लाख करोड़ तक के आर्थिक पैकेज की मांग की थी, फिक्की के सेक्रटरी जनरल दिलीप चिनॉय ने कहा था कि हम लॉकडाउन से रोजाना 40 हजार करोड़ का नुकसान उठा रहे हैं।

    चिदंबरम बोले-पैदल चल रहे लाखों गरीबों को लेकर लिए पैकेज में कुछ नहीं

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    this package strengthens the dream of a strong India. It’s a good step towards a great India: FICCI
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X