चीनी कंपनियों पर रामदेव का हमला, सोलर सेक्टर में उतरकर हर घर को करेंगे रौशन

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली फूड सेक्टर में देशी और विदेशी कंपनियों को कड़ी टक्कर देने के बाद अब बाबा रामदेव की आयुर्वेद कंपनी पतंजलि इंफ्रास्ट्रक्टर सेक्टर में उतरने की तैयारी में जुट गई है। योगगुरू रामदेव की कंपनी पतंजलि सबसे पहले सलर सेक्टर पर धावा बोलना चाहती है। जल्दी ही पतंजलि सोलर एनर्जी से संचालित उपकरणों का उत्पादन करेगी।

 Surya Namaskar is the new biz mantra: Patanjali moves from traditional niche to a futuristic segment

आपको बता दें कि सोलर सेक्टर में उतरने के लिए पतंजलि ने 100 करोड़ रुपए निवेश किए हैं। कुछ ही महीनों में पतंजलि की फैक्ट्री ग्रेटर नोएडा में बनकर तैयार हो जाएगी। कंपनी ने एमडी आचार्य बालकृष्ण ने कहा है कि स्वदेशी आंदोलन के साथ कंपनी सोलर सेक्टर में उतरेगी। आपको बता दें कि सोलर सेक्टर के उपकरणों पर अब तक चीन का दबदबा है।

बाबा रामदेव ने अब इस सेक्टर में घुसकर चीन पर हमला बोला है। रामदेव के मुताबिक वो चाहते हैं कि देश के हर घर तक सोलर एनर्जी की मदद से रौशनी पहुंचे। इसलिए उन्होंने इस सेक्टर मे प्रवेश की तैयारी कर ली है। सबसे खास बात की पतंजलि को इस नए क्षेत्र में अपने उत्पादों से काफी मदद मिलेगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
After shaking up the FMCG sector, Yoga guru Ramdev's Patanjali Ayurved is headed to the infrastructure sector. It plans to diversify into solar power equipment manufacturing, a burgeoning sector that is largely dependent on Chinese imports.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.