मोदी के कट्टर विरोधी रहे, अब कांग्रेस को जड़ से मिटाने में करेंगे सहयोग

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कांग्रेस छोड़ नई पार्टी 'जनविकल्प' के जरिए गुजरात की जनता को नया विकल्प देने का दावा करने वाले शंकर सिंह वाघेला सिर्फ और सिर्फ कांग्रेस की मिट्टी पलीत करेंगे। जिसका सीधा फायदा बीजेपी को मिलेगा। प्रदानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिन के गुजरात दौरे पर हैं वो अपनी टाइट शेड्यूल के बावजूद पीएम लगातार गुजरात के लिये समय निकाल रहे हैं, साथ ही बीजेपी के दूसरे दिग्गजों को भी मैदान में उतारने की तैयारी चल रही है। इस बार का गुजरात विधानसभा चुनाव बीजेपी के लिए लिटमस टेस्ट हैं जीते तो विजयरथ आगे बढ़ता रहेगा अगर हारे तो पतन की शुरूआत मानी जाएगी। कभी पीएम मोदी के कट्टर विरोधी रहे शंकर सिंह वाघेला इस बार मोदी का साथ कांग्रेस को जड़ से मिटाने में दे रहे हैं।

वाघेला की पार्टी भाजपा की बी टीम है।

वाघेला की पार्टी भाजपा की बी टीम है।

राजनीतिक जानकारों की मानें तो वाघेला की पार्टी भाजपा की बी टीम है। दरअसल, पिछले कई सालों में भाजपा विरोधी लहर गुजरात में बन रही है, जिसका फायदा कांग्रेस को मिलने की बातें कही जा रही है। ऐसे में यदि जनविकल्प मोर्चा खड़ा होता है तो विरोधी लहर से कांग्रेस को मिलने वाला फायदा बंट जाएगा और यह बीजेपी के लिए गेम चेंजिंग साबित हो सकता है। हालांकि, वाघेला 2017 का चुनाव नहीं लड़ने वाले हैं। वो यह बखुबी जानते हैं कि, गुजरात में तीसरा मोर्चा कभी चला नहीं है। 1998 में जब वो 'राष्ट्रीय जनता पार्टी' लेकर आए थे तो वो भी चुनाव में नहीं टिक पाई थी।

कहीं वाघेला मुश्किल ना बन जाएं

कहीं वाघेला मुश्किल ना बन जाएं

हालांकि, शंकरसिंह वाघेला का कहना है कि, जनता ने कांग्रेस को 20 साल तक सत्ता में देखा और भाजपा को भी देख चुकी है। अब जनता दोनों पार्टियों से नाराज है। इसीलिए वो जन प्रतिनिधि बन इस चुनावी मैदान में उतर रहे हैं, जो किसी भी पार्टी की बी टीम नहीं है। देखना है कि चुनावों के दौरान शंकर सिंह वाघेला की जनविकल्प जनता का विकल्प बनती है या कांग्रेस का विकल्प। यहां ये बात भी गौर करने वाली है कि राजनीति के माहिर खिलाड़ी शंकर सिंह वाघेला का जनविकल्प कारगर साबित होता है, तो आने वाले दिनो में यह बीजेपी और कांग्रेस दोनों के लिये मजबूरी जरुर बन जाएगा।

अमित शाह ने बनाया बिग प्लान

अमित शाह ने बनाया बिग प्लान

दरअसल चुनावी पंडितों के अनुसार बीजेपी इस बार गुजरात में बड़े चेहरे की कमी के साथ-साथ बीस साल से ज्यादा की एंटी इन्कम्बेंसी का भी सामना कर रही है। ऐसे में बीजेपी के लिये 2019 लोकसभा चुनाव से पहले ये बड़ा टेस्ट है, जहां पर उन्हें हर हाल में वापसी करनी होगी। लिहाजा बीजेपी चीफ अमित शाह ने बिग प्लान बनाया है ताकि किसी भी सूरत में हार का सामना ना करना पड़े। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक शंकर सिंह वाघेला भी उसी प्लान के हिस्सा है और अपना काम कर रहे हैं।

गुजरात दौरे पर पीएम: जब अचानक काफिला रोककर पुराने दोस्त से मिले मोदी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Shankar Singh Vaghela is a part of bjp big plan in gujrat,favouring for to defeat congress

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.