• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अब इस अभिनेत्री ने बयां किया कास्टिंग काउच का घिनौना सच

|

नई दिल्ली। पंजाबी फिल्म अभिनेत्री पायल राजपूत ने दक्षिण की फिल्म आरएक्स 100 में से अपनी टॉलीवुड कैरियर शुरू किया था। इस फिल्म में वह एसएस कार्तिकेय के साथ नजर आई थीं, यह फिल्म काफी लोकप्रिय हुई थी। फिल्म की सफलता के बाद पायल कई फिल्मों में काम कर रही है, इस दौरान उन्होंने खुलकर फिल्म जगत के भीतर की बुराईयों पर बात की है। पायल का मानना है कि मीटू अभियान की वजह से कुछ महिलाओं को जरूर सामने आकर खुलकर आप बीती बताने की हिम्मत मिली है। लेकिन बावजूद इसके समाज में कोई बड़ा बदलाव नहीं आ रहा है।

मीटू के बाद भी यह सब हो रहा है

मीटू के बाद भी यह सब हो रहा है

एक इंटरव्यू में पायल ने कहा कि मीटू अभियान के बावजूद कास्टिंग काउच का लोगों को शिकार होना पड़ रहा है। जब पायल से पूछा गया कि क्या यौन शोषण के मामले कम हुए हैं तो उन्होंने कहा कि आरएक्स 100 की रीलीज के बाद उनके साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ था। किसी ने मुझे संपर्क किया, मुझे बड़ी फिल्म में रोल देने का वादा किया। लेकिन मैं इस बात के हमेशा से खिलाफ रही हूं कि शरीर के बदले बड़ा रोल हासिल किया जाए, लिहाजा मैंने इसके खिलाफ अपना जवाब दिया। लेकिन सच कहूं तो जब मुंबई और पंजाब में मैं छह साल से काम कर रही थी तो इस तरह की घटनाएं मेरे साथ हुई थीं। मुझे शक है कि इस तरह की घटनाओं का मुझे भविष्य में भी सामना करना पड़ेगा। सच्चाई यह है कि मीटू अभियान के बाद भी कास्टिंग काउच की समस्या ना सिर्फ फिल्म जगत बल्कि हर पेशे में है।

कास्टिंग काउच के बारे में खुलकर बोलूंगी

कास्टिंग काउच के बारे में खुलकर बोलूंगी

पायल ने कहा कि वह कास्टिंग काउच के बारे में हमेशा खुलकर बोलती रहेंगी। उन्होंने कहा कि अंतर सिर्फ इतना है कि कुछ लोग इसे खुलकर बोलने की हिम्मत करते हैं, जैसा कि मीटू अभियान के दौरान कुछ लोगों ने खुलकर अपनी आपबीती सामने रखी थी। लेकिन कुछ लोग इस दौरान भी अपनी बात को सामने नहीं रख पाए। मैं हमेशा ही खुलकर बोलने में विश्वास रखती हूं और इस बारे में बोलती हूं, मैं अपने अस्मित को गिरवी रखकर कुछ हासिल नहीं करना चाहती हूं।

मैं हमेशा ही बोलती रहूंगी

मैं हमेशा ही बोलती रहूंगी

पायल ने बताया कि अगर लोग मेरे खुलकर बोलने की वजह से संपर्क नहीं करते हैं तो मुझे इससे कोई दिक्कत नहीं है। अगर किसी को इस बात का डर है कि मैं उनके बारे में सच बोल दूंगी और वह मेरे पास काम लेकर नहीं आना चाहते हैं तो मुझे इससे कोई दिक्कत नहीं है। पहले से ही कई लोग हैं जो मुझे पसंद नहीं करते हैं। कुछ लोग तो मेरे बोलने की वजह से मुझसे नफरत करते हैं। मेरे पास हमेशा से इसका आसाना समाधान है, या तो ये लोग ऐसा करना छोड़ देंगे या फिर मैं उन्हें छोड़ दूंगी। कास्टिंग काउच के खिलाफ मैं हमेशा से ही इसलिए बोलती रही हूं क्योंकि काफी सालों से मैं इसका सामना कर रही हूं। मैं अफसोस के साथ नहीं जीना चाहती हूं, आरएक्स 100 में कुछ बोल्ड सीन करने के लिए मैं तैयार हो गई, इसका यह कतई मतलब नहीं है कि लोग यह सोचे कि मैं फिल्म पाने के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार हूं। बता दें कि फिलहाल पायल रवि तेजा की फिल्म डिस्को राजा, वेंकरटेश-नागा की फिल्म वेंकी मामा की शूटिंग में व्यस्त हैं।

इसे भी पढ़ें- बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने मंदबुद्धि महिला को पीटा, पुलिस ने 6 लोगों को किया गिरफ्तार

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
RX100 film actress Payal Rajput says there is still casting couch despite meetoo campaign.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X