• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ऋषिकेश: 303 लाख रुपये में तैयार होगा नया लक्ष्मण झूला, 90 साल पुराने पुल का होगा ये उपयोग

|

देहरादून: उत्तराखंड के ऋषिकेश में गंगा नदी के ऊपर बना विश्व प्रसिद्ध लक्ष्मण झूला 12 जुलाई को आम लोगों के लिए बंद कर दिया गया था। इस पुल की खराब हालत को देखते हुए स्थानीय प्रशासन ने इसे आम लोगों के लिए बंद कर दिया गया था। इसे लेकर स्थानीय स्तर पर काफी विरोध हुआ था। अब उत्तराखंड में बीजेपी शासित त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गंगा नदी पर बने क्षतिग्रस्त और जीर्ण-शीर्ण हो चुके लक्ष्मण झूला पुल को नए सिरे से तैयार करने के लिए 303 लाख रुपये जारी किए हैं।

303 लाख में बनेगा नया झूला पुल

303 लाख में बनेगा नया झूला पुल

उत्तराखंड सरकार में अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने बताया कि पुल के निर्माण से पूर्व पहले चरण के कामों जैसे जमीन और ढांचे को फाइनल करना, यूटिलिटी शिफ्टिंग , विस्तृत सर्वेक्षण, डिजायन/ड्राइंग और पुनरीक्षण जैसे कार्यों का संज्ञान लिया गया है। इसके साथ ही शासन से शुक्रवार को को इन कामों के लिए 303.60 लाख रुपये की स्वीकृति भी मिल गई है। गौरतलब है कि अभी पुल के दोनों ओर से बाकायदा वेल्डिंग कर लोहे की चादर से सील कर पुल को बंद भी कर दिया गया था।

कब बनकर होगा तैयार

कब बनकर होगा तैयार

नए पुल की अपस्ट्रीम साइड में पैदल झूला पुल बनाने के लिए विभागीय अधिकारियों ने जगह का चुनाव कर लिया है। इसके साथ ही 150 मीटर का पैदल झूला पुल बनाने के लिए जगह चुनने के बाद अब जल्द ही नया पुल बनकर तैयार किया जाएगा। इसे 2021 के कुंभ तक पूरा कर लिए जाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके पहले चरण का काम पूरा हो चुका है।

पुराने पुल का क्या होगा?

पुराने पुल का क्या होगा?

उत्तराखंड सरकार ने तय किया है कि पुराने लक्ष्मण झूला सेतु पर रेट्रोफिटिंग करके उसे पर्यटन के लिहाज से धरोहर के रूप में उपयोग में लाया जाएगा। गौरतलब है कि ब्रिटिश ने गंगा नदी पर लक्ष्मण झूला का निर्माण साल 1930 में किया गया था। गंगा नदी के दोनों हिस्सों को जोड़ने का इस्तेमाल दुनिया भर से आने वाले श्रद्धालु और स्थानीय लोग करते थे। ये पुल टिहरी जिले में तपोवन गांव को नदी के पश्चिमी तट पर स्थित पोड़ी जिले के जोंक इलाके से जोड़ता है। पौराणिक मान्यता अनुसार यहां पर लक्ष्मण ने जूट की रस्सियों के सहारे गंगा नदी को पार किया था।

क्षमता से अधिक लोग कर रहे थे इस्तेमाल

क्षमता से अधिक लोग कर रहे थे इस्तेमाल

ऋषिकेश के स्थानीय प्रशासन के मुताबिक इस पुल का इस्तेमाल क्षमता से अधिक लोग कर रहे थे। इस पुल पर अधिक यातायात और लोगों की सुरक्षा को देखते हुए बंद करने का फैसला लिया गया था। उत्तराखंड लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने कहा था कि इसी साल जनवरी में एक्सपर्ट्स ने इस पुल का निरीक्षण किया था। विशेषज्ञों ने बताया कि 1930 में बने लक्ष्मण झूले की उम्र अब पूरी हो चुकी है। पुल को जोड़ने में इस्तेमाल हुए कई उपकरण बहुत पुराने हैं और खराब हो रहे हैं।

लक्ष्मण झूला और बॉलीवु़ड कनेक्शन

लक्ष्मण झूला और बॉलीवु़ड कनेक्शन

बॉलीवुड की कई सुपरहिट फिल्में यहां शूट हो चुकी हैं। इसमें गंगा की सौगंध, सौगंध, संन्यासी, नमस्ते लंदन, बंटी और बबली, महाराजा, अर्जुन पंडित, करम, दम लगाके आइसा जैसी फिल्में हैं। 75 साल के अभिताभ ने हाल में लंगूर के साथ अपनी फोटो शेयर करते हुए एक किस्सा सुनाया था। उन्होंने बताया था करीब 40 साल पहले जब वो एक लंगूर को कुछ खिला रहे थे, उसी दौरान दूसरे बंदर ने उन्हें थप्पड़ जड़ दिया था। अमिताभ ने साल 1978 की फिल्म 'गंगा की सौगंध के सेट की ब्लैक एंड व्हाइट तस्वीर जारी की थी।

ये भी पढ़ें-ऋषिकेश: लक्ष्मण झूला बना कई फिल्मों की शूटिंग का गवाह, अमिताभ को लंगूर ने जड़ा था थप्पड़

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rishikesh new Lakshman Jhula construction cost is 303 lakh rupees
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X