• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

पैगंबर पर विवादित टिप्पणी के खिलाफ इंटरनेशनल हैकर्स ने शुरू किए साइबर हमले, जानिए क्या है 'ड्रैगनफोर्स'

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 13 जून: बीजेपी की निलंबित नेता नूपुर शर्मा के पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी के बाद जारी विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। पहले जहां मुस्लिम देशों ने उनके बयान की कड़ी निंदा की। उसके बाद देशभर में उनकी गिरफ्तारी को लेकर प्रदर्शन किया गया। वहीं अब भारतीय संस्थानों पर साइबर अटैक शुरू हो गए हैं। मलेशिया स्थित हैक्टिविस्ट ग्रुप ड्रैगनफोर्स ने भारत सरकार के खिलाफ साइबर हमलों की एक सीरीज शुरू कर दी है।

भारत सरकार के खिलाफ 'स्ट्राइक बैक'

भारत सरकार के खिलाफ 'स्ट्राइक बैक'

ड्रैगनफोर्स मलेशिया ग्रुप ने एक अभियान OpsPatuk शुरू किया है, जो भारत सरकार के खिलाफ "स्ट्राइक बैक" का मतलब बताता है। साथ ही यह दुनिया भर के मुस्लिम हैकर्स, मानवाधिकार संगठनों और कार्यकर्ताओं से भी मदद मांग रहा है। धार्मिक और राजनीतिक रूप से प्रेरित अभियान OpsPatuk कुछ संवेदनशील सरकारी वेबसाइटों को उल्लंघन कर सकते हैं, जिनमें व्यक्तिगत पहचान योग्य जानकारी (PII), सैन्य अभियान और अन्य सरकारी सीक्रेट्स के जुड़ी चीजें शामिल हैं, जो गलत हाथों में देश और उसके नागरिकों पर टारगेट हमलों को सक्षम कर सकता है।

भारत में बढ़ने वाले हैं साइबर हमले

भारत में बढ़ने वाले हैं साइबर हमले

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक साइबर एक्सपर्ट का अनुमान है कि भारतीय संस्थाओं पर इस तरह के साइबर हमलों बढ़ने वाले हैं। ऐसे में और सरकार और अन्य संस्थानों को अपनी डिजिटल संपत्तियों को सुरक्षित करने के लिए पर्याप्त सुरक्षा उपाय सुनिश्चित करने चाहिए। 10 जून को अपनी रिसर्च में बेंगलुरु बेस्ड साइबर सुरक्षा फर्म CloudSEK ने एक मलेशियाई हैक्टिविस्ट समूह द्वारा पोस्ट किए गए एक ट्वीट की खोज की, जिसे ड्रैगनफोर्स के नाम से जाना जाता है, जिसमें दुनिया भर में मुस्लिम हैकरों द्वारा भारत सरकार की वेबसाइटों पर हमले करने का आह्वान किया गया है।

Recommended Video

    Cyber Attack on India: देश की 500 Website पर साइबर हमला | Hackers । वनइंडिया हिंदी । *news
    नागपुर के इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस की वेबसाइट हैक

    नागपुर के इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस की वेबसाइट हैक

    CloudSEK के रिसर्चर के मुताबिक साइबर हमले का प्राइमरी टारगेट नूपुर शर्मा के पैगंबर मोहम्मद के बारे में की गई विवादास्पद टिप्पणियों के लिए भारत सरकार के खिलाफ जवाबी कार्रवाई करना था। आपको बता दें कि रविवार को नागपुर के इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस की वेबसाइट को हैक कर लिया था। वेबासाइट को ड्रैगनफोर्स मलेशिया ने ही हैक किया था और होम पेज पर लिखा था कि "यह हमारे पैगंबर मोहम्मद के अपमान पर एक विशेष अभियान है।"

    जानिए क्या है 'ड्रैगनफोर्स मलेशिया'

    जानिए क्या है 'ड्रैगनफोर्स मलेशिया'

    ड्रैगनफोर्स मलेशिया एक फिलिस्तीन समर्थक हैक्टिविस्ट ग्रुप है। इस ग्रुप का इंस्टाग्राम और फेसबुक प्रोफाइल के साथ-साथ कई टेलीग्राम चैनल भी हैं। ग्रुप टिकटॉक और इंस्टाग्राम रीलों का यूज करके लगातार लोगों को अपने में जोड़ने की कोशिश कर रहा है। भारत सरकार के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने वाले इस हैकर ग्रुप के पोस्ट को 24 लाख से अधिक लोगों ने देखा है।

    पैगंबर विवाद : मलेशिया ने भारतीय उच्चायुक्त को तलब किया, BJP के फैसले का किया स्वागतपैगंबर विवाद : मलेशिया ने भारतीय उच्चायुक्त को तलब किया, BJP के फैसले का किया स्वागत

    Comments
    English summary
    Prophet row International hackers started cyber attacks know what is malaysia Dragonforce
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X