• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रक्षा उत्पादन के स्वदेशीकरण को बढ़ावा देने से 'आत्मनिर्भर भारत' अभियान को मिलेगा बल: राजनाथ सिंह

|

नई दिल्ली। कोरोना काल में देख के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बड़ा ऐलान करते हुए 101 रक्षा उपकरणों के आयात पर रोक लगा दी है। रविवार को अपने एक बयान में राजनाथ सिंह ने कहा कि देश आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहा है, जिसमें अब रक्षा मंत्रालय का भी बड़ा योगदान है। रक्षा मंत्रालय के इस फैसले के बाद देश में रक्षा उपकरणों के उत्पादन को बड़ा बूस्ट मिलेगा। खुद रक्षामंत्री ने इस बाबत कई ट्वीट करके जानकारी दी है और कहा है कि प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत के आह्वाहन के बाद रक्षा मंत्रालय ने यह बड़ा कदम उठाया है।

    Rajnath Singh ने 101 Defence Items के Import पर क्यों लगाई रोक?, जानिए वजह | वनइंडिया हिंदी

    Promoting indigenization of defense production will fulfill the dream of Self-reliant India Rajnath Singh

    रविवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जलियांवाला बाग शताब्दी वर्ष के समापन और शहीद ऊधम सिंह के बलिदान दिवस की स्मृति में आयोजित 'है नमन उनको' कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हिस्सा लिया। इस कार्यक्रम के दौरान उन्होंने 101 रक्षा वस्तुओं पर आयात प्रतिबंध लगाने की जानाकारी दी। उन्होंने कहा, रक्षा मंत्रालय भी 'आत्मनिर्भर भारत' को सफल बनाने के सपने की ओर बढ़ रहा है। आज, मैंने रक्षा उत्पादन के स्वदेशीकरण को बढ़ावा देने के लिए 101 रक्षा वस्तुओं पर आयात प्रतिबंध लगाने की घोषणा की।

    उधर, अंडमान निकोबार द्वीप समुह के बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने आत्मनिर्भर भारत को सफल बनाने का संकल्प लिया है। उन्होंने कहा अंडमान निकोबार द्वीप समुह ने भारत की आज़ादी के आंदोलन को ताकत दी है। आत्मनिर्भर भारत के लिए, नए भारत की रक्षा-सुरक्षा और समृद्धि के लिए भी अंडमान-निकोबार की व्यापक भूमिका है। इसी को समझते हुए 2017 में ही आइलैंड डिवेलपमेंट एजेंसी का गठन किया गया था।

    बता दें कि मंत्रालय की ओर से 101 सामान की लिस्ट तैयार की गई है, जिसके आयात पर रोक लगाई जाएगी। यह आत्म निर्भर भारत की दिशा में एक बड़ा कदम है। पीएम मोदी ने इस आत्मनिर्भर भारत अभियान का आह्वाहन किया था, जिसके बाद रक्षा मंत्रालय ने यह फैसला लिया है। इस फैसले से बड़े स्तर पर रक्षा उद्योग को उत्पादन का मौका मिलेगा। रक्षा मंत्रालय ने रक्षा उत्पादों के घरेलू उत्पादन के लिए जो लिस्ट तैयार की है उसे सेना, आम नागरिक और निजी उद्योंगों के साथ चर्चा के बाद तैयार किया गया है।

    अगर चल रही हैं कुंडली के इन ग्रहों की दशाएं तो कोरोना काल में भी मिलेगी नौकरी में तरक्की

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Promoting indigenization of defense production will fulfill the dream of Self-reliant India Rajnath Singh
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X