• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Opinion पोल: क्या बिहार चुनाव में चिराग की वजह से NDA को होगा नुकसान, जानिए लोगों ने क्या कहा?

|

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के पहले चरण का मतदान आगामी 28 अक्टूबर को होने जा रहा है। बड़ा सवाल जो सबसे मन में कौंध रहा है कि क्या इस बार चिराग पासवान के नेतृत्व में अकेले बिहार चुनाव में उतरी एलजेपी चुनाव में एनडीए को नुकसान पहुंचा सकती है, तो इसका कुछ हद तक जवाब एवीबी और सीवोटर द्वारा जारी हुए ओपिनियन पोल में मिलता हुआ दिख रहा है। जानिए जनता ने क्या कहा?

NDA

बिहार में चुनावी रैली में राजनाथ सिंह ने कहा, 'लालटेन फूट गई और तेल बह गई है'

 ओपनियन पोल में बिहार की जनता से मिले जवाब बेहद चौंकाऊ मिले

ओपनियन पोल में बिहार की जनता से मिले जवाब बेहद चौंकाऊ मिले

दरअसल, एबीपी न्यूज ने बिहार की जनता का मन टटोलने का प्रयास किया था,जिसके नतीजे जारी कर दिए गए हैं। ओपनियन पोल में पूछे गए कई सवालों के बिहार की जनता से मिले जवाब बेहद चौंकाऊ मिले हैं, जो जेडीयू चीफ नीतीश कुमार और एनडीए की पेशानी पर बल डाल सकते हैं। ऐसा ही एक सवाल था कि क्या चिराग की वजह से एनडीए को चुनाव में नुकसान होगा।

60 फीसदी का मानना है कि चिराग की वजह से NDA को नुकसान होगा

60 फीसदी का मानना है कि चिराग की वजह से NDA को नुकसान होगा

ओपनियन पोल में इस सवाल के जवाब में जो नतीजे जारी किए गए हैं, वो बेहद चौंकाऊ हैं, क्योंकि 60 फीसदी जनता का मानना है कि चिराग की वजह से एनडीए को नुकसान पहुंच सकता है, जबकि महज 40 फीसदी ने कहा कि चिराग की वजह से एनडीए को कोई फर्क पड़ने वाला है। इसी तरह ओपनियन पोल एक और सवाल जवाब भी चौंका गए।

61 फीसदी जनता ने बीजेपी और चिराग की मिलीभगत को स्वीकार किया

61 फीसदी जनता ने बीजेपी और चिराग की मिलीभगत को स्वीकार किया

अगला सवाल था, क्या चिराग और बीजेपी मिले हुए हैं, तो 61 फीसदी लोगो का कहना है कि बिहार एनडीए में जो कुछ हो रहा है, वो बीजेपी और चिराग पासवान की मिलीभगत से हो रहा है, जबकि महज 39 फीसदी ने चिराग और बीजेपी के बीच मिलीभगत से इनकार किया है। यह नतीजे बीजेपी और जेडीयू के गठजोड़ वाले एनडीए के लिए आसन्न खतरे को दर्शाते हैं।

45 फीसदी ने माना कि लालू के जेल में होने का असर आरजेडी पर दिखेगा

45 फीसदी ने माना कि लालू के जेल में होने का असर आरजेडी पर दिखेगा

वहीं, ओपिनियन पोल में पूछे गए अगले सवाल पर भी लोगों की प्रतिक्रिया काफी रोचक था। सवाल था, क्या लालू के जेल में होने से आरजेडी को नुकसान होगा। इसके जवाब के लिए बिहार की 243 विधानसभा सीटों पर हुए ओपिनियन पोल में 45 फीसदी जनता ने माना कि लालू के जेल में होने का असर आरजेडी पर चुनावी रिजल्ट में दिखेगा, लेकिन 55 फीसदी का कहना है कि ऐसा नहीं होगा।

नीतीश+ को 44 %, लालू+ को 33% वोट शेयर मिलेगाः ओपनियन पोल

नीतीश+ को 44 %, लालू+ को 33% वोट शेयर मिलेगाः ओपनियन पोल

गौरतलब है एबीपी न्यूज-सीवोटर के ओपनियन पोल के मुताबिक नीतीश+ को 44 फीसदी, लालू+ को 33 फीसदी, एलजेपी को 4 फीसदी और अन्य के खाते में 19 फीसदी वोट शेयर जा सकता है। वहीं, वोट फीसदी को सीटों में बदलें तो नीतीश+ को 36-44 सीट मिलता हुआ दिख रहा है, जबकि लालू+ को 23-30 सीट, अन्य के खाते में 2-3 सीटें जा सकती हैं। वहीं, मगध भोजपुर इलाके में चिराग पासवान की पार्टी एलेजीपी सिमटती हुई दिख रही है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Voting for the first phase of Bihar Assembly Election 2020 is going to be held on 28 October. The big question that has been flying in the mind is whether this time under the leadership of Chirag Paswan can harm the NDA in the LJP election in the Bihar elections alone, the answer to this is found to some extent in the opinion poll by AVB and CVOTER. Is visible Know what the public said?
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X