पंढेर को अय्याशी करते देख कोली बना हैवान, डेड बॉडी तक से कर डाले रेप

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। गाजियाबाद की विशेष सीबीआई अदालत ने निठारी केस के एक मामले में सुरेंद्र कोली और मोनिंदर सिंह पंढेर को दोषी मानते हुए फांसी की सजा सुनाई है। सोमवार को विशेष सीबीआई अदालत ने कहा सुरेंद्र कोली को लेकर कई बातें कही हैं। कोर्ट ने कहा कि कोली ने कई जगह पर काम किया था लेकिन उसने ऐसी वारदात कहीं और नहीं की। उसने ऐसी वारदात को अंजाम देना उस समय शुरू किया जब मोनिंदर सिंह पंढेर के यहां काम करने पहुंचा। मोनिंदर पंढेर रोज दो या तीन लड़कियां लाता था। जिससे सुरेंद्र कोली की आदत बिगड़ी।

पंढेर लाता था कॉलगर्ल्स

पंढेर लाता था कॉलगर्ल्स

दरअसल, सुरेंद्र कोली, मोनिंदर पंढेर के घर पर नौकर के तौर पर काम करता था। मामले खुलासा हुआ है कि पंढेर कॉलगर्ल्स बुलाता था। ऐसा कोई दिन होता था जब वो दो या तीन कॉलगर्ल्स नहीं बुलाए। कोली भी इनसे दोस्ती करना चहता था, लेकिन नौकर होने की वजह से उसे कामयाबी नहीं मिलती थी। यही वो वजह थी जिसकी वजह से कोली में गुस्सा बढ़ा और उसने डेडबॉडी के साथ रेप करना शुरू कर दिया।

कोली को लेकर कोर्ट ने क्या कहा

कोली को लेकर कोर्ट ने क्या कहा

सीबीआई ने मोनिंदर पंढेर को मामले में आरोपी नहीं बनाया था। चार्जशीट में बताया गया कि जिस दिन पिंकी सरकार (20) की हत्या हुई, पंढेर सेक्टर 2 में अपने ऑफिस में दोपहर के करीब 1.30 बजे तक था। इसके बाद एसयूवी से देहरादून के लिए निकल गया। वहां होटल में रात 11.27 बजे चेक-इन किया। ऐसे में उसके इस मामले में शामिल होने के कोई सबूत नहीं मिलते हैं।

कोली-पंढेर को फांसी की सजा

कोली-पंढेर को फांसी की सजा

हालांकि पिंकी सरकार के परिवार की ओर से याचिका दायर होने के बाद सीबीआई ने पंढेर को सीआरपीसी की धारा 319 के तहत समन किया। विशेष सीबीआई जज पवन कुमार तिवारी ने कहा कि 2004 से मोनिंदर सिंह पंढेर उसी घर में रह रहा था जहां कोली काम करता था। कोली वहां नौकर के तौर पर काम करता था। दूसरा कोर्ट ने कहा कि डी-5 के उसी घर में दर्जनों हत्याएं हुई।

कोली के बयान से फंसा पंढेर

कोली के बयान से फंसा पंढेर

आखिरकार कोली के बयान से सब साफ हो गया। उसने कबूल किया कैसे घटनाओं को अंजाम दे रहा था। यही पंढेर के खिलाफ भी गया। इस बीच ऐसा भी कहा जा रहा है कि सुरेंद्र कोली के सामने पंढेर लड़कियां लाता और उनसे करीबी नहीं बढ़ने से धीरे-धीरे वह एक मानसिक बीमारी से ग्रसित हो गया। आखिरकार उसने छोटे बच्चों को शिकार बनाने लगा।

इसे भी पढ़ें:-निठारी हत्याकांड: सुरेंद्र कोली और पंढेर को फांसी की सजा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Nithari killings: Pandher got girls home, it influenced Koli, says CBI Court
Please Wait while comments are loading...