• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मुंबई पुलिस ने जिसे समंदर में डूबने से बचाया, वो नशे में डूबा तो हवालात पहुंचा

|

नई दिल्ली- मुंबई में रविवार को एक बहुत ही दिलचस्प वाक्या देखने को मिला। एक शख्स के लिए वर्सोवा पुलिस को दो बार भागना पड़ गया और वह भी महज घंटे भर के भीतर। एक बार पुलिस की वजह से उस शख्स की जान बच गई और दूसरी बार उससे दूसरों की जान को खतरे में पड़ता देख पुलिस उसे धर-दबोचने के लिए भागी थी। लेकिन, मजे की बात ये रही कि दोनों स्थिति में पुलिस अपनी ड्यूटी निभाने में पूरी तरह से कामयाब रही। अब वह शख्स अपने साथी के साथ न्यायिक हिरासत में भेजा जा चुका है।

समंदर में डूब रहा था शख्स, पुलिस वाले ने बचाया

समंदर में डूब रहा था शख्स, पुलिस वाले ने बचाया

रविवार रात करीब 1 बजे की बात है। वर्सोवा पुलिस का कॉन्स्टेबल निलेश जाधव समंदर के पास ही पेट्रोलिंग ड्यूटी पर था। तभी उसे सूचना मिली की एक व्यक्ति समंदर में डूब रहा है। जाधव फौरन मोके पर पहुंचा और कुछ स्थानीय लोगों की मदद से रिशु चोपड़ा नाम के उस शख्स को किसी तरह से पानी से बाहर निकालकर ले आया। प्राथमिक उपचार के बाद चोपड़ा ने बताया कि वह पहली बार मुंबई आया है और अपने दोस्त सौरव आनंद के साथ समंदर में स्वीमिंग के लिए रात में ही चला आया था। पुलिस दोनों को रात के समय समंदर किनारे से चले जाने के लिए कहकर वहां से चली गई।

घंटे भर बाद उसी कॉन्स्टेबल को तेज रफ्तार कार की सूचना मिली

घंटे भर बाद उसी कॉन्स्टेबल को तेज रफ्तार कार की सूचना मिली

घंटे भर बाद भी वही 28 वर्षीय कॉन्स्टेबल निलेश जाधव इलाके में गश्त लगा रहा था। उसके पास फिर एक सूचना पहुंची कि जेपी रोड पर एक वॉक्सवैगन कार बेतहाशा भागी जा रही है। कॉन्स्टेबल जाधव और एक सब इंस्पेक्टर ने अपनी बाइक से उस तेज रफ्तार कार का पीछा किया। वे लोग ड्राइवर को रुकने का इशारा करने लगे, लेकिन कार चालक ने पुलिस को देखकर गाड़ी की स्पीड और बढ़ा दी। थोड़ी दूर आगे जाने पर वह कार ट्रैफिक में फंस गई और पुलिस ने कार में सवार दोनों लोगों को उतरने के लिए कहा।

नशे की हालत में कार चलाने वाला शख्स वही था

नशे की हालत में कार चलाने वाला शख्स वही था

जब कॉन्स्टेबल जाधव की नजर कार ड्राइवर रिशु चोपड़ा पर पड़ी तो वह चौंक गया कि यह तो वही है, जिसे उसने थोड़ी देर पहले ही समंदर में डूबने से बचाया था। उसके साथ उसका वही साथी भी था, जो बीच पर भी दिखा था। जब पुलिस ने उनसे कहने पर भी गाड़ी नहीं रोकने की वजह पूछी तो आनंद ने चोपड़ा की पिटाई शुरू कर दी। उसका आरोप था कि इसी ने गाड़ी धीमी नहीं की। दोस्त की पिटाई से चोपड़ा बदहवास होकर जमीन पर गिर पड़ा। दोनों के मुंह से शराब की गंध आ रही थी।

वही शख्स गिरफ्तार हुआ जिसे डूबने से बचाया था

वही शख्स गिरफ्तार हुआ जिसे डूबने से बचाया था

पूछताछ के बाद पता चला कि समंदर में डूबने से बचने के बाद दोनों ने कार में ही बैठक खूब दारू पी थी। गाड़ी से शराब की दो बोतलें भी बरामद हुईं हैं। पुलिस ने दोनों को मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया। उनके खिलाफ शराब पीकर गाड़ी चलाने के लिए मोटर व्हिकल एक्ट और महाराष्ट्र नशा और उपद्रवी व्यवहार निरोधक कानून की धारा 85ए दर्ज किया गया है। गिरफ्तारी के बाद दोनों को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया और बाद में अदालत ने दोनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। 38 साल का रिशु चोपड़ा और 37 साल का उसका दोस्त सौरव आनंद दोनों हरियाणा के गुड़गांव के रहने वाले हैं। दोनों ही आरोपी शेयर-ब्रोकिंग के कारोबार से जुड़े हैं।

इसे भी पढ़ें- दिल्ली: Whatsapp पर शौहर ने बीवी को दिया तीन तलाक, पुलिस ने किया गिरफ्तारइसे भी पढ़ें- दिल्ली: Whatsapp पर शौहर ने बीवी को दिया तीन तलाक, पुलिस ने किया गिरफ्तार

English summary
Mumbai police saved a man from drowning,arrested for drink driving an hour later
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X