• search

मोदी-नीतीश ने दी उन मृतकों को श्रद्धांजलि, जो ज़िंदा हैं

Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
    मोदी-नीतीश ने दी उन मृतकों को श्रद्धांजलि, जो ज़िंदा हैं

    एक ऐसा हादसा जिस पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव '27 लोगों के मारे जाने' को लेकर दुख जता चुके हैं.

    बिहार के मोतिहारी में हुए उस बस हादसे में किसी की मौत नहीं हुई है. ऐसा कहना है पूर्वी चंपारण के एसपी उपेंद्र कुमार शर्मा का. वहीं बिहार के आपदा प्रबंधन मंत्री दिनेश चंद्र यादव ने भी मीडिया से कहा, ''हादसे में 27 लोगों के मरने की जो ख़बर आई थी, वो ग़लत थी.''

    एसपी शर्मा ने स्थानीय पत्रकार मनीष शांडिल्य को बताया, ''कोई अवशेष नहीं मिले हैं. ऐसा प्रतीत हो रहा है कि किसी की मौत नहीं हुई हो. हम लोग इस उम्मीद में हैं. अभी एफएसएल टीम आएगी तो वो बेहतर पुष्टि कर पाएगी. हम लोगों की काफी लोगों से बात हुई है. ऑनलाइन बुकिंग 13 को थी. जांच में अब तक ये बात निकलकर नहीं आई है कि कोई जल गया है.''

    ये बस गुरुवार को बिहार के मुजफ्फरपुर से दिल्ली जा रही थी और रास्ते में हादसे का शिकार हो गई थी. मीडिया के एक हिस्से में इस ख़बर आने के बाद प्रमुख लोगों ने दुख ज़ाहिर करना शुरू कर दिया था.

    मनीष शांडिल्य के मुताबिक़, ''बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश को इस हादसे के बारे में एक सरकारी कार्यक्रम के दौरान पता चला. नीतीश ने इसी कार्यक्रम के दौरान घटना पर शोक जताया और मारे गए यात्रियों के लिए एक मिनट का मौन रखवाया.''

    मुख्यमंत्री कार्यालय से एक प्रेस रिलीज जारी की. मुख्यमंत्री ने कहा, ''बिहार के इस हादसे में जो लोग मारे गए होंगे, उनके परिजनों को नियमानुसार आर्थिक मदद उपलब्ध करवाई जाएगी.''

    इस हादसे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर दुख ज़ाहिर किया.

    हादसे को लेकर ट्वीट करने वालों में बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी रहे. सुशील कुमार मोदी ने लिखा, ''चंपारण में हुए बस हादसे से दुखी हूं. मरने वालों की संख्या 24 या उससे ज़्यादा हो सकती है. ये बस दिल्ली जा रही थी.''

    मीडिया में आई ख़बरों के बाद तेजस्वी यादव ने भी ट्विटर पर लिखा, ''बिहार के मुजफ़्फ़रपुर से दिल्ली जा रही बस पलटने और उसमें आग लगने से 27 लोगों की मौत से दुखी हूं. मृतकों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं.''

    ये हादसा नेशनल हाईवे 28 पर पूर्वी चंपारण जिले के कोटवा थाना क्षेत्र के पास हुआ था.

    वैसे इस हादसे में क्या वाकई किसी की जान गई है, इसका साफ-साफ तब पता चल पाएगा, जब फॉरेसिंक जांच की रिपोर्ट आएगी.

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    BBC Hindi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Modi-Nitish gave tributes to those dead, who are alive

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X