पाक उच्चायुक्त अब्दुल बासित तलब, दिए गए उरी हमले से जुड़े सबूत

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। उरी हमले के लेकर पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित को तलब किया गया है। विदेश मंत्रालय ने उरी हमले से जुड़े कई सबूत पेश किए।

abdul

अब्दुल बासित को विदेश सचिव ने किया तलब

विदेश विभाग के प्रवक्ता विकास स्वरुप ने बताया कि उरी हमले में घुसपैठ करने वाले आतंकियों को लेकर कई सबूत मिले हैं।

राजस्‍थान, गुजरात से सटे कराची में नीचे उड़ने वाले एयक्राफ्ट हुए बैन

विकास स्वरुप ने बताया कि आतंकियों को सहयोग करने वाले दो गाइड सामने आए हैं। जिन्हें ग्रामीणों की मदद से गिरफ्तार किया गया है। इन्ही के सहयोग से आतंकी भारत में घुसपैठ करने में कामयाब हुए।

फिलहाल दोनों गाइड को हिरासत में रखा गया है। बताया जा रहा है कि दोनों गाइड मुजफ्फराबाद के रहने वाले हैं। उनकी पहचान फैजल हुसैन अवान (20) के रुप में हुई है। उसके पिता का नाम गुल अकबर है और वह मुजफ्फराबाद के पोथा जहांगीर का रहने वाले है।

पढ़ें: पाक हमारा मोस्ट फेवर्ड नेशन है (MFN),जानिए इसका मतलब

आतंकियों की घुसपैठ में शामिल गाइड चढ़े हत्थे

पकड़े गए दूसरे गाइड की पहचान यासीन खुर्शीद (19) के तौर पर हुई है। उसके पिता का नाम मोहम्मद खुर्शीद है। वह मुजफ्फराबाद के खिलायाना कलान का रहने वाला है।

धमकियों के बाद अभिनेता फवाद खान ने छोड़ा भारत

विकास स्वरुप ने बताया कि शुरुआती पूछताछ में उन्होंने एक आतंकी की पहचान उजागर की है। उरी हमले में शामिल इस आतंकी नाम हाफिज अहमद है। इसके पिता का नाम फिरोज है। ये मुजफ्फराबाद के धरबांग का रहने वाला था।

विकास स्वरुप ने बताया कि उरी हमले की पूरी साजिश को अंजाम देने में जिन लोगों ने मदद की है उनकी पहचान भी हो गई है। इनके नाम मोहम्मद कबीर अवान और बशरत हैं।

पढ़ें: 24 घंटे JIO के साथ, ना कॉल कनेक्ट हुआ और ना वो स्पीड मिली

इसके साथ ही पाकिस्तान को एक बार फिर भारत ने हिदायत देते हुए कहा कि सीमा पार से आतंकवाद अब नहीं होना चाहिए। ये बर्दाश्त के बाहर हो गया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Foreign Secretary calls in Pakistan HC Basit, present proof of Cross border origins of uri attacks.
Please Wait while comments are loading...