• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

फडणवीस सरकार में लॉन्‍च जलयुक्‍त शिवहर योजना की सच्‍चाई सामने आए: छगन भुजबल

|

मुंबई। महाराष्‍ट्र की महाविकास अघाडी सरकार ने आज फड़णवीस सरकार के समय में लॉन्‍च जलयुक्‍त शिवार योजना की SIT जांच कराने का फैसला लिया है। इस फैसले के बाद विभिन्‍न राजनीतिक दलों की प्रतिक्रिएं आ रही है। एनसीपी नेता छगन भुजबल ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। भुजबल ने कहा है कि "पिछली सरकार द्वारा जलयुक्त शिवार योजना शुरू की गई थी। कैग रिपोर्ट में कहा गया है कि इस योजना के तहत उल्लेखित कार्य नहीं किया गया इसलिए, सच्चाई का सामने आना जरूरी है।

फडणवीस सरकार में लॉन्‍च जलयुक्‍त शिवहर योजना की सच्‍चाई सामने आए: छगन भुजबल

इससे पहले कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने भी कांग्रेस की ओर से महाराष्‍ट्र सरकार के इस फैसले का स्वागत किया। सावंत ने कहा कि फडणवीस सरकार की जलयुक्त शिवार योजना बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार से ग्रस्त है। कांग्रेस ने बार-बार आरोप लगाया था कि राज्य में पानी की आपूर्ति नहीं बढ़ी थी, लेकिन केवल कुछ ठेकेदारों के भंडार में वृद्धि हुई थी और भ्रष्टाचार उजागर हुआ था। हाल ही में कैग की रिपोर्ट ने भी इस सौदे को सील कर दिया। महाविकास अघाडी सरकार द्वारा जलयुक्त शिवहर योजना की जांच SIT के माध्यम से करने का निर्णय बहुत ही उचित है और कांग्रेस पार्टी इसका स्वागत करती है।

आंध्र प्रदेश के CM जगनमोहन रेड्डी को हटाने के लिए SC में याचिका, जानिए पूरा मामला

आपको बता दें कि परियोजना में जल धाराओं को गहरा और चौड़ा करना, जल एकत्र करने के लिये सीमेंट और मिट्टी के बांध बनाना, नाला बनाना और खेत तालाब बनाने का कार्य शामिल था। शिवसेना भी 2014-19 के दौरान फड़णवीस नीत सरकार का हिस्सा थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जलयुक्त शिवार योजना में फड़णवीस के कार्यों की सराहना किये जाने के एक दिन बाद इस जांच की घोषणा की गई है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Maharashtra government orders SIT probe into the Jalyukt Shivar Scheme, Chhagan Bhujbal reacts.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X