• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

महाराष्ट्र: मंदिरों को फिर से खोलने को लेकर BJP का आंदोलन, हिरासत में लिए गए प्रसाद लाड समेत कई कार्यकर्ता

|

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मद्देनजर अनलॉक-5 में भी मंदिरों के कपाट बंद रखे गए हैं। हालांकि केंद्र सरकार ने पहले ही धार्मिक स्थलों को खेलने की अनुमति दे दी है। इस बात से नाराज मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के कार्यकर्ताओं ने मुंबई में राज्य की गठबंधन वाली शिवसेना नीत सरकार का जमकर विरोध किया। प्रदर्शनकारियों ने 'मदिरा चालू मंदिर बंद' जैसे नारे लगाए और प्लेकार्ड्स भी दिखाए। इस बीच मुंबई में सिद्धिविनायक मंदिर के बाहर विरोध प्रदर्शन के दौरान भाजपा नेता प्रसाद लाड को अन्य पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

    Maharashtra में Siddhivinayak Temple खोलने की मांग, मंदिर के बाहर BJP का प्रदर्शन | वनइंडिया हिंदी

    Maharashtra BJP leader Prasad Lad detained along with other party workers by police during a protest

    मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक विरोध प्रदर्शन के दौरान वहां भारी संख्या में पुलिस बल भी मौजूद था, इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने बैरिकेडिंग तोड़कर मंदिर में घुसने का प्रयास किया। विरोध प्रदर्शन की अगुआई कर रहे भाजपा नेता प्रवीण दारेकर का कहना है कि राज्य में शराब और वाइन शॉप खोल दिए गए लेकिन उनके बारे में कौन सोचेगा जो अपनी मानसिक शांति के लिए मंदिर जाते हैं। यहां तक की होम डिलीवरी भी शुरू हो गई है लेकिन मंदिरों के कपाट अभी तक नहीं खोले गए हैं। बीजेपी नेता ने कहा, सरकार उन छोटे व्यापारियों के बारे में नहीं सोच रही है जिनकी आजीविका मंदिरों पर आश्रित है। सरकार अहंकार से भरी है।

    बीजेपी ने महाराष्ट्र पर कसा तंज

    महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भी मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखा और मंदिरों को खोलने को कहा है। कोश्यारी ने उद्धव ठाकरे पर तंज कसा कि आप अचनाक सेक्युलर कैसे हो गए? जबकि आप इस शब्द से नफरत करते थे। कोश्यारी की चिट्ठी पर उद्धव ने जवाब भी दिया है। ठाकरे ने कहा कि मैं हिंदुत्व का समर्थक हूं और हिन्दुत्व का अनुपालन करता हूं, इसके लिए मुझे आपसे किसी सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है। अब महाराष्‍ट्र बीजेपी के अध्‍यक्ष चंद्रकात पाटिल ने ठाकरे पर हमला बोला है और कहा है कि क्या राज्यपाल देश के नागरिक नहीं हैं? क्या वो हिंदू नहीं हैं? उन्हें हर मुद्दे पर बोलने का अधिकार है। क्या उन्हें सवाल पूछने का अधिकार नहीं है? उन्हें (उद्धव ठाकरे) मंदिर फिर से खोलने में क्या दिक्कत है? क्या मंदिर खोलने पर कांग्रेस-एनसीपी उनसे समर्थन वापस ले लेंगी।

    उद्धव ठाकरे सरकार ने महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (MPSC) परीक्षा को किया स्‍थगित

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Maharashtra BJP leader Prasad Lad detained along with other party workers by police during a protest
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X