• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

5 साल में सात गुना घटी मोदी के इस मंत्री की आय, पत्नी से भी ले रखा है कर्ज

|

नई दिल्‍ली। क्‍या अपने कभी सुना है कि पहले सांसद फिर मंत्री बनने के बाद किसी की आय लगातार कम होती गई हो। शायद नहीं लेकिन डॉ. महेश शर्मा के साथ ऐसा हुआ है। पांच साल पहले उनकी सालाना इनकम करीब 3.54 करोड़ रुपये थी जो अब करीब 7 गुना घटकर मात्र 48.56 लाख रुपये रह गई है। उनकी ओर से दाखिल आयकर रिटर्न से इसका पता चला है। वह अपनी पत्नी के कर्जदार भी हैं। पत्नी ने उन्हें करीब 1.03 करोड़ रुपये का कर्ज दिया हुआ है। डॉक्टर महेश शर्मा ने 2013-14 में करीब 3.54 करोड़ रुपये का और 2015-16 में 4.82 करोड़ रुपये का आयकर रिटर्न दाखिल किया था। 2017-18 में यह घटकर मात्र 48.56 लाख रह गया है। उनकी पत्नी डॉ. उमा शर्मा की इनकम में अधिक अंतर नहीं आया है। उन्होंने 2013-14 में 1.02 करोड़ और 2017-18 में 1.05 करोड़ रुपये का रिटर्न दाखिल किया है।

बीते 5 साल में नहीं खरीदा कोई गहना

बीते 5 साल में नहीं खरीदा कोई गहना

सांसद के पास पांच कंपनियों के छह करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के शेयर हैं। वहीं उनकी पत्नी के पास चार कंपनियों के 1.23 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर हैं। सांसद 25 लाख रुपये मूल्य की टॉयोटा लैंड प्राडो से चलते हैं जबकि उनकी पत्नी के पास लैंड क्रूजर, मारुति जिप्सी, फोर्स क्रूजर गाड़ियां हैं। महेश शर्मा पर 3.27 लाख रुपये जबकि उनकी पत्नी के पास 25.36 लाख रुपये की ज्वैलरी व नगीने हैं। शपथपत्र के अनुसार गौर करने वाली बात है कि शर्मा परिवार ने पिछले पांच साल में कोई ज्वैलरी नहीं खरीदी है। डॉ. शर्मा पर कुल 2.45 करोड़ रुपये का कर्ज है । इसमें अपनी पत्नी उमा शर्मा से 1.03 करोड़ रुपये का कर्ज भी शामिल है।

विवादित बयान को लेकर चर्चा में रहते हैं महेश शर्मा

विवादित बयान को लेकर चर्चा में रहते हैं महेश शर्मा

साल 2014 में भी पत्नी से लिया यह कर्ज दिखाया गया था। सांसद और उनकी पत्नी के पास दिल्ली और नोएडा में पांच आवासीय कोठियां हैं। दंपत्ति पर करीब 82 लाख रुपये का होम लोन भी है। 59 वर्षीय महेश शर्मा ने साल 2014 में पहली बार गौतम बुद्ध नगर से लोकसभा चुनाव लड़ा था। मोदी सरकार के यह मंत्री अक्सर अपने विवादित बयानों के लिए चर्चा में रहते हैं। हाल ही में इन्होंने प्रियंका गांधी को लेकर विवादित बयान दिया। पिछली बार इन्होंने समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार नरेंद्र भाटी को करीब 2.75 लाख मतों के अंतर से हराया था। बसपा के उम्मीदवार सतीश कुमार 16.5 फीसदी मत हासिल कर तीसरे स्थान पर रहे थे। इस बार सपा-बसपा गठबंधन के कारण महेश शर्मा के लिए मुकाबला कठिन माना जा रहा है। पेशे से डॉक्टर शर्मा साल 2012 में विधायक भी रह चुके हैं।

शुक्रवार को महेश शर्मा ने भरा नामांकन

शुक्रवार को महेश शर्मा ने भरा नामांकन

केंद्रीय मंत्री और गौतमबुद्धनगर लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी डॉ. महेश शर्मा ने शुक्रवार को सुबह सवा ग्यारह बजे जिला कलेक्ट्रेट में पहुंचकर अपना नामांकन भरा। इससे पहले डॉ. शर्मा सेक्टर-15 स्थित अपने घर से निकल कर सेक्टर-19 स्थित सनातन धर्म मंदिर पहुंचे। वहां पर उन्होंने विधि-विधान से पूजा-अर्चना की और फिर वहां से सीधे जिला कलेक्ट्रेट गए। इस अवसर पर डॉ. शर्मा ने एनडीए को दूसरी बार बहुमत मिलने का विश्वास जताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 5 साल में अभूतपूर्व विकास कार्य किया गया है। देश की सीमाएं सुरक्षित हुई हैं तथा हर व्यक्ति की सामाजिक सुरक्षा बढ़ी है। उन्होंने कहा कि वह अपने लोकसभा क्षेत्र की प्रमुख समस्याएं प्रदूषण, ट्रैफिक, कानून-व्यवस्था को दूर करने का प्रयास करेंगे।

Read Also- 5 स्‍टार होटल का लाखों का बिल चुकाए बिना फरार हुई ये एक्‍ट्रेस, पुलिस ने पकड़ा तो सच आया सामने

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Lok Sabha Elections 2019: BJP MP Mahesh Sharma annual income decrease 7 times in last five year.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X