• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

लॉकडाउन: पाकिस्तान में फंसे 300 भारतीयों को स्वदेश लौटने की मिली अनुमति, आज अटारी-बाघा बार्डर से पहुंचेंगे भारत

|

नई दिल्ली। कोरोनावायरस महामारी के कारण पाकिस्तान में फंसे 300 से अधिक भारतीय नागरिक स्वदेश वापसी की तैयारी में हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार भारत सरकार ने इन लोगों को भारत लौटने की अनुमति प्रदान कर दी है। रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि सभी भारतीय नागरिक शनिवार यानी आज अटारी-वाघा सीमा पार करके भारत में पहुंचेंगे।

atari

रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान में फंसे भारतीय नागरिकों के समूह में लाहौर में पढ़ रहे जम्मू-कश्मीर के 80 छात्रों के साथ समूह में इस्लामाबाद और ननकाना साहिब में फंसे क्रमश 10 और 12 भारतीय नागरिक शामिल हैं, जो अपने रिश्तेदारों से मिलने पाकिस्तान गए हुए थे और कोविड -19 लॉकडाउन लागू होने के बाद यात्रा प्रतिबंधों के कारण वहां फंस गए थे।

atari

और मजबूर मजदूर ने बिस्तर पर पड़ी बीमार मां को जिन्दा जला दिया, क्योंकि?

गौरतलब है लगभग 200 भारतीय नागरिक कराची और पाकिस्तान के सिंध प्रांत के अलग-अलग हिस्सों में रह रहे हैं। इन लोगों को एक हलफनामे पर हस्ताक्षर करने के लिए कहा गया, जिसके बाद उन्हें स्वदेश लौटने की अनुमति मिली है। पाकिस्तान ने समूह को वाघा सीमा पर ले जाने की सारी व्यवस्था पूरी कर ली है, उन्हें शुक्रवार रात तक वहां लाया गया और शनिवार को भारतीय अधिकारियों को सौंप दिया जाएगा।

atari

घर छोड़कर भागा युवा प्रेमी जोड़ा लॉकडाउन में फंस गया, और फिर क्वॉरेंटाइन में रचानी पड़ी शादी!

इससे पहले, गत बुधवार को भारत में फंसे 176 पाकिस्तानी नागरिकों को अटारी-वाघा बॉर्डर क्रॉसिंग के माध्यम से पाकिस्तान भेजा गया, जिनमें से अधिकांश लोग तीर्थयात्रा पर भारत आए थे। पाकिस्तानी रेंजरों ने उन्हें सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) से रिसीव किय। ईधी फाउंडेशन (Edhi Foundation) के मोहम्मद यूनिस ने बताया कि इन लोगों में शामिल महिलाओं और बच्चों समेत पाकिस्तानी नागरिकों को लाहौर में क्वॉरेंटाइन केंद्रों में स्थानांतरित कर दिया गया, जहां वे 72 घंटे रहेंगे।

atari

FB पर एएमयू के दो छात्रों ने 'पाकिस्तान' को बताया अपना मुल्क, पुलिस ने केस दर्ज कर शुरू की जांच

उल्लेखनीय है गत 20 मार्च 2020 से अब तक 400 पाकिस्तानी नागरिक भारत से अपने देश लौट चुके हैं। COVID-19 महामारी के प्रकोप के बाद बढ़ाए गए लॉकडाउन और अटारी-वाघा सीमा के बंद होने के कारण भारत में फंसे पाकिस्तानी नागरिक छत्तीसगढ़, गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और दिल्ली में रह रहे थे।

अयोध्या मामले पर भारत ने पाकिस्तान को लगाई फटकार,कहा- इस मुद्दे से उसका कोई लेना-देना नहीं

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The group of Indian nationals stranded in Pakistan includes 80 students from Jammu and Kashmir studying in Lahore as well as 10 and 12 Indian nationals trapped in Islamabad and Nankana Sahib, who went to Pakistan to visit their relatives and Covid-19 lockdown After enforcements were stuck there due to travel restrictions.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X