• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जानिए कैसे पूरे स्टाफ की सूझबूझ से महिला ने विमान के भीतर बच्चे को दिया जन्म, पायलट ने साझा किया कॉकपिट का माहौल

|

बेंगलुरू। क्या कभी आपने सोचा है कि आप विमान में सफर कर रही है और इस दौरान आपको लीवर पेन (प्रसव पीड़ा) होने लगे तो आप क्या करेंगी। इंडिगो विमान में सफर कर रही गर्भवती महिला जो जब लीवर पेन शुरू हुआ तो विमान के भीतर ही महिला ने मासूम से बच्चे को जन्म दिया। विमान के भीतर महिला की डिलिवरी कतई आसान नहीं थी। इस दौरान विमान के स्टाफ, पायलट के सामने एक बड़ी चुनौती थी कि कैसे महिला और बच्चे दोनों को सुरक्षित रखा जाए और हवा में ही बच्चे को जन्म दिलाया जाए।

    Delhi-Bengaluru Flight: Flight में हुआ बच्चे का जन्म, अब Lifetime Free हवाई यात्रा । वनइंडिया हिंदी
    एयरपोर्ट पर जबरदस्त स्वागत

    एयरपोर्ट पर जबरदस्त स्वागत

    बुधवार को दिल्ली से बेंगुलूरू जा रहे इंडिगो एयरलाइंस के विमान में महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया। विमान के लैंड होने के बाद महिला और बच्चे दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। विमान जब केंपागोड़ा एयरपोर्ट पहुंचा तो पायलट ने बच्चे की तस्वीर को सोशल मीडिया पर साझा किया। साथ ही दो घंटे तक विमान के भीतर किस तरह से महिला को प्रसव पीड़ा होने लगी और विमान के भीतर ही बच्चे को जन्म दिया। विमान के एयरपोर्ट पहुंचने के बाद महिला को व्हील चेयर पर बैठाकर अस्पताल पहुंचाया गया। एयरपोर्ट पर महिला का जबरदस्त स्वागत किया गया।

    टाली गई आपात लैंडिंग

    टाली गई आपात लैंडिंग

    हालांकि एयरलाइंस की ओर से महिला की पहचान को सार्वजनिक नहीं किया गया है। पायलट कैप्टन संजय मिश्रा जोकि वायुसेना के पायलट रह चुके हैं, उन्होंने व्हाट्सएप ग्रुप में इस पूरी घटना की जानकारी साझा की है। उन्होंने बताया कि पहले हमने सोचा कि हैदराबाद एयरपोर्ट पर आपात लैंडिंग कराई जाए, लेकिन जब विमान के भीतर मौजूद दो डॉक्टर्स ने महिला का प्रसव कराया और बच्चे को जन्म दिलाया और कहा कि बच्चा और मां दोनों ही स्वस्थ हैं तो आपात लैंडिंग को टाल दिया गया।

    महिला को अचानक उठा दर्द

    महिला को अचानक उठा दर्द

    कैप्टन ने लिखा, यह सब तब शुरू हुआ जब क्रू लीडर ने बताया कि सीट नंबर 1सी पर बैठी महिला यात्री को प्रसव पीड़ा हो रही है और सुबह से महिला ने कुछ नहीं खाया है। प्रसव पीड़ा होने के बाद महिला को आराम से लिटाया गया और खाने व पीने को दिया गया। कुछ देर बाद महिला की उलझन और दर्द बढ़ने लगा। महिला ने पेट में दर्द की शिकायत की। स्थिति बिगड़ती देख मैंने लीड से डॉक्टर को संपर्क करने को कहा। महिला विमान की आगे की सीट पर बैठी थी। विमान ने दिल्ली से शाम 4.42 बजे उड़ान भरी थी।

    विमान में डॉक्टरों ने कराया प्रसव

    कैप्टन ने लिखा कि फ्लाइट में दो काफी अच्छे डॉक्टर शैलजा वल्लाभनेनी और डॉक्टर नागराज मौजूद थे। एयरलाइन के सूत्रों के अनुसार डॉक्टर लगातार कॉकपिट के संपर्क में थे। जब विमान भोपाल के उपर पहुंचा तो महिला को रक्तस्त्राव होने लगा और विमान में लोगों की चिंता बढ़ने लगी। लोगों को लगा कि महिला का अपॉर्शन हो गया। विमान में लैवटरी रूम को लेबर रूम के तौर पर इस्तेमाल किया गया। मैं कॉकपिट में डॉक्टर की ओर से अपडेट का इंतजार कर रहा था ताकि मैं आगे के कदम पर फैसला ले सकूं। मैं काफी परेशान और चिंतित था, तभी मैंने विमान के भीतर आवाजें सुनीं, लोग चिल्ला रहे थे, तालियां बजा रहे थे, नवजात के जन्म पर बधाई दे रहे थे, महिला ने एक लड़के को जन्म दिया था।

    इसे भी पढ़ें- रतन टाटा ने शेयर की स्कूली दिनों की तस्वीर, यूजर ने कहा-आप कमाल हैं सर, देखें Pics

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Lady gave birth to baby boy in flight here is how crew members and pilot
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X