• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Kalka-Shimla heritage train: 5 महीने बाद सिर्फ दो यात्रियों को लेकर ही क्यों चली, जानिए

|

नई दिल्ली- शिमला रेलवे स्टेशन पर रविवार को 5 महीने बाद रौनक लौटी। लॉकडाउन की वजह से बंद पहली कालका-शिमला हेरिटेज ट्रेन यहां पहुंची थी। लेकिन, इसमें सिर्फ दो स्पेशल यात्री ही सवार थे। बता दें कि आमतौर पर इस लोकप्रिय ट्रेन में 248 यात्रियों को लेकर चलने की क्षमता है। इससे पहले शनिवार को ही भारतीय रेलवे ने देशभर में 40 जोड़ी अतिरिक्त स्पेशल ट्रेनों को चलाने का फैसला किया है। यह फैसला यात्रियों की बढ़ती मांग के मद्देनजर किया जा रहा है। इन ट्रेनों के शुरू होने के साथ ही देश में चल रही कुल स्पेशल ट्रेनों की तादाद 310 हो जाएगी।

सिर्फ दो यात्रियों को लेकर चली हेरिटेज ट्रेन

सिर्फ दो यात्रियों को लेकर चली हेरिटेज ट्रेन

5 महीने बाद रविवार को कालका-शिमला हेरिटेज लाइन पर ट्रेन सेवा बहाल हो गई। लेकिन, पहली ट्रेन सिर्फ दो स्पेशल पैसेंजरों को लेकर ही सोलन से शिमला की ओर रवाना हुई। ये दोनों स्पेशल यात्री नेशनल डिफेंस एकैडमी (एनडीए) की परीक्षा देने वाले उम्मीदवार थे। कालका-शिमला रेलवे के चीफ कॉमर्शियल इंस्पेक्टर अमर सिंह ठाकुर ने बताया कि, 'कोविड-19 महामारी के बीच यह स्पेशल ट्रेन नेशनल डिफेंस एकैडमी की परीक्षा में शामिल हो रहे उम्मीदवारों के लिए शुरू की गई है, जो कि संघ लोक सेवा आयोग द्वारा पूरे भारत में आयोजित करवाया जा रहा है।' बता दें कि वैसे इस हेरिटेज ट्रेन में में 248 यात्री एक साथ सफर कर सकते हैं।

आरामदायक और सुरक्षित सफर

आरामदायक और सुरक्षित सफर

हेरिटेज ट्रेन से यात्रा करने वाले एक स्पेशल यात्री और एनडीए परीक्षा में उम्मीदवार अनुराग शर्मा ने शिमला पहुंचने पर कहा, 'मैं एनडीए की परीक्षा में शामिल होने के लिए सोलन से आया हूं। मैंने इसीलिए इस ट्रेन से यात्रा करने का फैसला किया, क्योंकि यह ज्यादा आरामदायक है और बस की तुलना में ज्यादा सुरक्षित भी है। ' उधर चीफ कॉमर्शियल इंस्पेक्टर अमर सिंह ठाकुर ने ये भी बताया कि '47 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए, दोनों यात्रियों ने इस ट्रेन से सुबह में यात्रा की है। यही ट्रेन शाम में वापस लौटेगी और हम लोगों को उम्मीद है कि तब ज्यादा यात्री होंगे। '

रेल मंत्री ने भी दी थी परीक्षा स्पेशल ट्रेनों की जानकारी

रेल मंत्री ने भी दी थी परीक्षा स्पेशल ट्रेनों की जानकारी

गौरतलब है कि केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को कहा था कि सेंट्रल रेलवे नेशनल डिफेंस एकैडमी और नेवल एकैडमी में शामिल होने वाले उम्मीदवारों की सुविधा के लिए 23 विशेष ट्रेनें चलाएगा। ये पूरी तरह से रिजर्व स्पेशल ट्रेनें 4 सितंबर, 5 सितंबर और 6 सितंबर को चलेंगी। शनिवार को पूरे देश में ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जाम (मेन) शुरू होने के एक दिन बाद यूपीएससी ने रविवार को एनडीए की परीक्षा आयोजित करवाई है। यह परीक्षा पहले 19 अप्रैल को होनी थी, लेकिन कोविड-19 लॉकडाउन के चलते रद्द कर दी गई थी। कोरोना महामारी के चलते इसबार एनडीए 1 और एनडीए 2 की परीक्षाएं पूरे देश में एक ही दिन आयोजित करवाई गई हैं।

12 सितंबर से अतिरिक्त 80 स्पेशल ट्रेनें चलेंगी

12 सितंबर से अतिरिक्त 80 स्पेशल ट्रेनें चलेंगी

बता दें कि एक दिन पहले ही शनिवार को भारतीय रेलवे ने 80 अतिरिक्त स्पेशल ट्रेनें चलाए जाने का ऐलान किया था। ये 40 जोड़ी ट्रेनें 12 सितंबर से चलनी शुरू होंगी और इनके लिए रिजर्वेशन 10 सितंबर से शुरू हो जाएगा। ये स्पेशल ट्रेनें उन 230 स्पेशल ट्रेनों के अलावा होंगी, जो पहले से ही चलाई जा रही हैं। रेलवे बोर्ड ने कहा है कि इन स्पेशल ट्रेनों को उन रूटों पर चलाया जाएगा, जिसके लिए राज्यों से या तो परीक्षाओं के लिए या इसी तरह से किसी और कार्यों के लिए मांग की जाएगी। (पहली तस्वीर के अलावा सभी सांकेतिक)

इसे भी पढ़े- मां वैष्णो देवी की सुबह-शाम की पूजा में भक्तों को अनुमति मिली, रोज 2 हजार लोग कर सकेंगे दर्शन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Kalka-Shimla heritage train:After 5 months, why go with only two passengers, know
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X