• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

Vikram-S: ISRO ने रचा इतिहास, लॉन्च किया देश का पहला निजी रॉकेट, जानिए इसकी खासियत

|
Google Oneindia News

ISRO launch country first privately built rocket: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने शुक्रवार को एक निजी कंपनी द्वारा निर्मित देश का पहला रॉकेट लॉन्च कर दिया है। देश के पहले निजी रॉकेट विक्रम-एस (वीकेएस Vikram-suborbital (VKS) की लॉन्चिंग आज आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से 11.30 बजे की गई। आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा में भारत का पहला निजी रॉकेट 'विक्रम-एस' लॉन्च हुआ। इस रॉकेट को अंतरिक्ष स्टार्टअप स्काईरूट एयरोस्पेस की ओर से विकसित किया गया है। जिसके मिशन का नाम 'प्रारंभ' रखा गया है। विक्रम-एस रॉकेट भारत के निजी अंतरिक्ष डोमेन में एक नए युग की शुरुआत की है।

Recommended Video

Vikram S Launching: Vikram-S की सफल हुई लॉन्चिंग, जानें रॉकेट की खासियत | वनइंडिया हिंदी | #Shorts
ISRO Rocket

INSPACe के अध्यक्ष पवन कुमार गोयनका ने कहा, यह भारत के निजी क्षेत्र के लिए नई शुरूआत है जो अंतरिक्ष के क्षेत्र में कदम रखने जा रहे हैं और एक ऐतिहासिक क्षण हैं। मुझे मिशन प्रारंभ - स्काईरूट एयरोस्पेस की शुरुआत के सफल समापन की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है।

इस खास मौके पर केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा, ''यह भारत के स्पेस इकोसिस्टम को विकसित करने के लिए एक बड़ा कदम है और विश्व समूह के समुदाय में एक सीमावर्ती राष्ट्र के रूप में भी उभर रहा है। यह भारत के स्टार्टअप इकोसिस्टम के लिए भी एक महत्वपूर्ण मोड़ है।''

जानिए देश के पहले निजी रॉकेट विक्रम-एस की खासियत के बारे में?

-रॉकेट विक्रम-एस (वीकेएस ) को हैदराबाद स्थित स्टार्टअप कंपनी, स्काईरूट एयरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेड (एसएपीएल) द्वारा विकसित किया गया है।

-रॉकेट विक्रम-एस, लगभग 545 किलोग्राम वजन वाला सिंगल-स्टेज स्पिन-स्टेबलाइज्ड सॉलिड प्रोपेलेंट रॉकेट है।

-रॉकेट विक्रम-एस अधिकतम 101 किमी की ऊंचाई तक जाता है और समुद्र में गिर जाता है। लॉन्च की कुल अवधि सिर्फ 300 सेकंड है।

-स्काईरूट अपने रॉकेट लॉन्च करने के लिए इसरो के साथ कॉन्ट्रैक्ट करने वाला पहला स्टार्टअप था।

-देश का पहला निजी रॉकेट लॉन्च होने के अलावा, यह स्काईरूट एयरोस्पेस का पहला मिशन भी है। यह अंतरिक्ष में कुल तीन पेलोड ले जाएगा।

बता दें ये पहले ये रॉकेट 15 नवंबर को लॉन्च होने वाला था। लेकिन खराब मौसम के पूर्वानुमान के कारण इसे 18 नवंबर को लॉन्च किया जा रहा है। स्काईरूट एयरोस्पेस के इस पहले मिशन को ''प्रारंभ'' नाम दिया गया है।

ये भी पढ़ें- ISRO ने किया भारत के सबसे शक्तिशाली रॉकेट के लिए क्रायोजेनिक इंजन का सफल परीक्षणये भी पढ़ें- ISRO ने किया भारत के सबसे शक्तिशाली रॉकेट के लिए क्रायोजेनिक इंजन का सफल परीक्षण

Comments
English summary
ISRO to launch India first privately built rocket today need to know about Vikram-suborbital VKS
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X