वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने जारी की ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स की रिपोर्ट, भारत 21 पायदान फिसला

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (WEF) ने ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स की रिपोर्ट जारी की है। इस इंडेक्स में भारत की रैंकिंग 21 पायदान नीचे खिसक गई है और भारत 108वें नंबर आ गया है। भारत की अर्थव्यवस्था में महिलाओं की कम भागीदारी और कम वेतन की वजह से यह गिरावट दर्ज की गई है। इस इंडेक्स में 21 पायदान फिसलने के साथ ही भारत अब बांग्लादेश और चीन से भी पीछे हो गया है। इस इंडेक्स में बांग्लादेश 47वें पायदान पर है, जबकि चीन 100 वें नंबर पर है। आपको बता दें कि वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने जेंडर गैप को 2006 में मापना शुरू किया था। उस समय भारत की रैंकिंग 2017 की रैंकिंग से 10 पायदान ऊपर थी।

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने जारी की ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स की रिपोर्ट, भारत 21 पायदान फिसला

भले ही भारत इस बार जेंडर गैप के मामले में 21 पायदान फिसल गया है, लेकिन दुनिया के आधे से अधिक देशों ने इस बार अपनी रैंकिंग में बढ़त दर्ज की है। आइसलैंड ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स में पहले पायदान पर है। वहीं दूसरी स्थान पर नार्वे है। टॉप 10 के अन्य देशों में फिनलैंड तीसरे, रवांडा चौथे, स्वीडन पांचवें, निकारागुआ छठे, स्लोवेनिया सातवें, आयरलैंड आठवें, न्यूजीलैंड नौवें और फिलीपींस 10वें स्थान पर है।

भारत की अर्थव्यवस्था में महिलाओं की भागीदारी को लेकर वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने कहा है कि अभी यह भारत के लिए बड़ी चुनौती है। भारत में महिलाओं को मिलने वाले अवसरों में भारत की रैंकिंग 139वीं है वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य और सर्वाइवल के मामले में भारत की रैंकिंग 141वीं है।

ये भी पढ़ें- 1 दिसंबर के बाद सभी नए चार पहिया वाहनों पर लगा होगा फास्टैग, सरकार ने जारी किया नोटिफिकेशन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
india slips 21 slots on world economic forum gender gap index
Please Wait while comments are loading...