• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ICJ में भारत की कामयाबी के पीछे कांग्रेस के दिग्गज नेता का बेटा

|

नई दिल्ली। भारत को आज बड़ी सफलता मिली है। नीदरलैंड की राजधानी हेग में स्थित इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस ने पाकिस्तान की जेल में कैद कुलभूषण जाधव की फांसी मामले में फैसला सुनाया और उसकी फांसी पर रोक लगा दी। आईसीजे ने साफ कर दिया है कि पाकिस्‍ताान जाधव को फांसी नहीं दे सकता है। अंतर्राष्ट्रीय अदालत में 16 जजों में से 15 जजों ने भारत के पक्ष में फैसला सुनाया। भारत की ओर से वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे ने अपना पक्ष रखा। उनके दलीलों के आगे पाकिस्तान के पसीने छूट गए और उसके वकीलों को पीछे हटना पड़ा है। हर केस के लिए लाखों रुपए फीस लेने वाले साल्‍वे ने इस केस के लिए सिर्फ एक रुपए ही लिए थे। इस केस पर देश और दुनिया की निगाहें टिकी है। हरीश साल्वे ने कोर्ट के सामने जो दलीले दी उसके सामने पाकिस्तान के वकीलों को घुटने टेकने पड़े। आइए आपको बताते हैं कि कौन हैं साल्‍वे और क्या है उनका कांग्रेस से कनेक्शन

पढ़ें-ICJ: जानिए किस देश के अकेले जज ने भारत के खिलाफ लिखा फैसला

 हरीश साल्वे का कांग्रेस कनेक्शन

हरीश साल्वे का कांग्रेस कनेक्शन

कुलभूषण जाधव मामले में भारत को बड़ी जीत मिली है। इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस ने जाधव की फांसी पर रोक लगा दी। इस फांसी पर रोक लगवाने में देश के जाने-माने वकील हरीश साल्वे का बड़ा हाथ रहा। जाधव मामले की पैरवी हरीश साल्वे ने की। फैसले के बाद देश की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उन्हें शुक्रिया कहा आपको बता दें कि हरीश साल्वे देश के महंगे वकीलों में से एक हैं। उन्हें संवैधानिक मामलों का एक्टपर्ट माना जाता है। इन मामलों में उनकी विशेषज्ञता है। हरीश साल्वे का संबंध कांग्रेस पार्टी से रहा है। वो कांग्रेस के दिग्गज नेता और केंद्रीय मंत्री रहे एनकेपी साल्वे के बेटे हैं।

 वाजपेयी सरकार में सॉलिसिटर जनरल

वाजपेयी सरकार में सॉलिसिटर जनरल

हरीश साल्वे वाजपेई सरकार में थे सॉलिसिटर जनरल के पद पर रहे हैं। साल 1999 से लेकर 2002 तक वो वाजेपई सरकार में सॉलिसिटर जनरल रहे थे। दूसरे कार्यकाल के लिए भी सरकार ने उन्हें पेशकश की , लेकिन उन्होंने इंकार कर दिया। क्रिमिनल मामलों के ए क्सपर्ट साल्‍वे का जन्‍म नागपुर में हुआ था। उनके परिवार ने देश को कई वरिष्ठ वकील दिए। उनके दादा पीके साल्‍वे देश के जाने-माने क्रिमिनल लॉयर थे। उनके पिता दिग्गज कांग्रेस नेता और केंद्रीय मंत्री रहे। उनके पिता एनकेपी साल्वे ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष का पद भी संभाला।

 देश के महंगे वकील, मिनटों की फीस लाखों में

देश के महंगे वकील, मिनटों की फीस लाखों में

हरीश साल्वे देश के महंगे वकीलों में शामिल हैं। सबसे ज्यादा चर्चा में वो तब आए जब साल 2015 में हिट एंड रन केस में सलमान खान को 5 साल की सजा सुनाई गई थी। इसके तुरंत बाद हरीश साल्वे ने कोर्ट में सलमान खान का पक्ष रख और उन्हें बेल दिलाई। साल्वे ने कई बड़े केस लड़े हैं, जिनमें इतालवी सरकार के लिए दो इतालवी मरीनों का केस, सुप्रीम कोर्ट में वोडाफोन के टैक्स का मामला, मुकेश अंबानी की तरफ से रिलायंस गैस विवाद और रामदेव बाबा मामले में दिल्ली पुलिस का पक्ष में केस लड़ चुके हैं। उनकी फीस लाखों में होती है।

 सिर्फ 1 रुपए में लड़ा कुलभूषण जाधव का केस

सिर्फ 1 रुपए में लड़ा कुलभूषण जाधव का केस

साल्वे एक पेशी का कम से कम 4.5 लाख रुपए लेते हैं। वहीं यह भी कहा जाता है कि वह एक दिन का 30 लाख रुपए चार्ज करते हैं, लेकिन कुलभूषण मामले के लिए उन्होंने सिर्फ 1 रुपए फीस ली। खुद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
ICJ verdict on kulbhushan jadhav: Who is Harish Salve, How he is connected with Congress, Here all you need to Know
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X