इंडियन बिजनेस फोरम की बैठक में PM मोदी ने खोला बड़ा राज, आप भी जानिए

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को इंडियन बिजनेस फोरम की एक बैठक को संबोधित किया। इस बैठक में पीएम मोदी ने वर्ल्ड बैंक द्वारा जारी की गई 'ईज ऑफ डूइिंग बिजनेस' रैंकिंग में भारत की तरक्की पर सवाल खड़े रहे आलोचकों पर जमकर साधा। इसके साथ ही पीएम मोदी ने अपने बारे में भी एक बड़ा खुलासा किया।

पीएम मोदी ने ये राज खोला

पीएम मोदी ने ये राज खोला

पीएम मोदी ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने आज तक वर्ल्ड बैंक की बिल्डिंग भी नहीं देखी है। पीएम मोदी ने कहा, 'मैं एक ऐसा प्रधानमंत्री हूं जिसने आज तक वर्ल्ड बैंक की बिल्डिंग ही नहीं देखी है। वहीं कुछ ऐसे लोग भी हैं जो वर्ल्ड बैंक से ही देश को चलाते हैं।' पीएम मोदी ने कहा कि भारत ने बीते 3 सालों में वर्ल्ड बैंक की ईज ऑफ डूइिंग बिजनेस रैंकिंग में 42 अंको की छलांग लगाई है।

GST से फिर आएगा रैंकिंग में सुधार

GST से फिर आएगा रैंकिंग में सुधार

पीएम मोदी इस दौरान भारत की रैंकिंग में अगले साल भी सुधार होने को लेकर आश्वसत दिखे। पीएम मोदी ने उम्मीद जताई कि अगले साल जब जीएसटी को भी रैंकिंग बनाते समय शामिल किया जाएगा तो भारत एक बार फिर छलांग लगाएगा। पीएम मोदी ने कहा कि जीएसटी ने 121 करोड़ नागरिकों के देश को एक टैक्स रेट के साथ एक मार्केट बनाने में सफलता पाई है। इसके साथ ही इससे एक स्थिर और पारदर्शी टैक्स व्यवस्था भी देश को मिला है।

राहुल गांधी ने उठाया था सवाल

राहुल गांधी ने उठाया था सवाल

पीएम मोदी का यह बयान राहुल गांधी के उस बयान के ठीक बाद आया है जिसमें उन्होंने ईज ऑफ डूइिंग बिजनेस रैंकिंग पर सवाल उठाए थे। गुजरात में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा था कि भारत को किसी विदेशी संस्था से सर्टिफिकेट की जरुरत नहीं है। भारत को इसको लोगों से सर्टिफिकेट चाहिए और लोग कह रहे हैं कि नरेंद्र मोदी और अरुण जेटली फेल हो चुके हैं।

ये भी पढ़ें- लोन सस्‍ते करने के बाद SBI ने ग्राहकों को दिया बड़ा झटका

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
I am a PM who hasn't even seen World Bank building: PM Modi
Please Wait while comments are loading...