• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

HIV पीड़ित महिला ने किडनी दान कर बचाई जान, कायम की मिसाल

|

नई दिल्ली। एचआईवी एड्स एक ऐसी बीमारी है कि जिसके नाम से ही लोग घबरा जाते हैं। ऐसे में हम आपको एक ऐसी एचआईवी पीड़ित महिला के बारे में बता रहे हैं जीवित रहते हुए अपनी किड्नी दान कर दी। 35 साल की नीना मारटिनेज महिला ने एक एचआईवी पाजिटिव मरीज को ही किड्नी दी है।

hiv positive woman saved life by donating her kidney

महिला ने सोमवार को ऑप्रेशन की मदद से किड्नी दान कर दी। जिस मरीज को किड्नी दी गई है उसे अब डायलिसिस की जरूरत नहीं होगी। इसके बाद अगला पड़ाव नीना के शरीर से एचआईवी के प्रभाव को खत्म करना होगा। नीना ने एक इंटरव्यू में कहा कि लोग मुझे और मेरे जैसे लोगों को मौत लाने वाला मानते हैं लेकिन मुझे किसी को जिंदगी देने का और कोई बेहतर तरीका नहीं दिखा।

बचपन में गलत खून चढ़ा दिए जाने से एचआईवी की शिकार हुईं नीना ने गुरुवार को इस सर्जरी की घोषणा की। ये अपने तरह का पहला मामला था। आप्रेशन के बाद नीना ने कहा कि वे अच्छा महसूस कर रही हैं और वे जल्द ही मेराथान भागने की तैयारी में हैं। जान हाप्किंस के प्रोफेसर डॉरी सेगेव ने कहा कि एचआईवी पीड़ित लोग खून नहीं दे सकते लेकिन किड्नी दे सकते हैं और किसी की जान बचा सकते हैं।

केरल: दसवीं की किताब में लिखा - एचआईवी प्रीमैरिटल सेक्स और क्सट्रामैरिटल सेक्स से फैलता है

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
hiv positive woman saved life by donating her kidney
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X