• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Covid-19: कोरोना वायरस के 83 मरीजों में से कितने गंभीर, सरकार ने बताया

|

नई दिल्ली। चीन के वुहान शहर से निकला कोरोना वायरस अब दुनिया के आधे से ज्यादा देशों को अपनी चपेट में ले चुका है। इस महामारी से भारत भी अछूता नहीं रहा है और यहां भी संक्रमित लोगों की संख्या 83 तक पहुंच गई है जबकि दो लोगों की मौत हो चुकी है। देश में कोरोना वायरस के फैले खौफ के बीच केंद्र सरकार ने मरीजों को लेकर एक अहम जानकारी दी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को बताया कि कोरोना वायरस के 83 मरीजों में से कितने गंभीर हैं।

4000 लोगों को कड़ी निगरानी में रखा गया

4000 लोगों को कड़ी निगरानी में रखा गया

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में कोरोना वायरस के 83 मामलों की पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने शनिवार को बताया कि कोरोना वायरस के संभावित विस्तार को रोकने और बचाव के लिए सरकार उचित कदम उठा रही है। हमनें पूरे देश में 81 संक्रमित लोगों के संपर्क में आने वाले लगभग 4000 लोगों को कड़ी निगरानी में रखा है वहीं, 42,000 लोग सामुदायिक निगरानी में रखे गए हैं।

लोगों को खुद को संक्रमित होने से बचाने का किया आग्रह

लोगों को खुद को संक्रमित होने से बचाने का किया आग्रह

लव अग्रवाल के मुताबिक भारत सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर राष्ट्रीय आपदा घोषित कर दिया है। सभी राज्य सरकारें अब इससे लड़ने के लिए राज्य आपदा प्रतिक्रिया कोष का इस्तेमाल कर सकेंगे। इसके अलावा सरकार ने लोगों को इस वायरस के प्रति जागरुक होने और खुद को संक्रमण से बचाने के लिए सावधानी बरतने का आग्रह किया है। कोरोना वायरस से पहली मौत पर लव अग्रवाल ने कहा, कर्नाटक में मरने वाला 76 वर्षीय मरीज अस्थमा और उच्च रक्तचाप

की समस्या से पीड़ित था।

82 मरीजों में से कितने गंभीर

82 मरीजों में से कितने गंभीर

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने मरीजों के वर्तमान स्वास्थ पर बात करते हुए बताया कि कोरोना वायरस से संक्रमित कुल 83 मरीजों में से 72 की हालत स्थिर है। फिलहाल सभी मरीजों को डॉक्टरों की कड़ी निगरानी में रखा गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से यह भी बताया गया कि शुक्रवार को दिल्ली में कोरोना वायरस से दूसरी मौत दर्ज की गई है। मरने वाली 68 वर्षीय महिला अपने बेटे के संपर्क में आई थी जो हाल ही में विदेश से लौटा था।

डायबिटीज और हाइपरटेंशन से जूझ रही थी महिला

डायबिटीज और हाइपरटेंशन से जूझ रही थी महिला

आरएमएल ने डॉक्टरों ने महिला के स्वास्थ्य के बारे में बताया कि वह महिला डायबिटीज और हाइपरटेंशन से भी जूझ रही थी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस संबंध में बताया कि महिला को सांस लेने में दिक्कत थी और उसे वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था। ये महिला पश्चिमी दिल्ली की रहने वाली थी। इस महिला के बेटे का कोरोना वायरस टेस्ट पॉजिटिव पाया गया है। बताया जा रहा है कि महिला के बेटे ने 5 से 22 फरवरी के बीच स्विटरजरलैंड और इटली की यात्रा की थी। ये शख्स 23 फरवरी को दिल्ली वापस आया था।

'देश में 33 करोड़ देवी-देवता, कोरोना कुछ नहीं बिगाड़ सकता': कैलाश विजयवर्गीय का अजीबोगरीब बयान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
government told Out of 83 patients of Corona virus how many in serious condition
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X