• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गाजीपुर बॉर्डर के घटनाक्रम को लेकर गुस्सा, BJP विधायक नंद किशोर गुर्जर की कई गांवों में एंट्री बैन

|

नई दिल्ली। केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ सात महीने से ज्यादा समय से किसान देश में आंदोलन कर रहे हैं। शुरू में इस आंदोलन का ज्यादा असर हरियाणा और पंजाब में देखा जा रहा था। जिसके चलते वहां भाजपा नेताओं को लोगों के गुस्से का भी सामना करना पड़ रहा था। पंजाब हरियाणा के बाद अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी सत्ताधारी पार्टी के नेताओं का विरोध होने लगा है। खासतौर से 28 जनवरी को गाजीपुर बॉर्डर पर हुए घटनाक्रम के बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों में लगातार किसान पंचायतें हो रही हैं, जिनमें निशाने पर बीजेपी नेता हैं। पश्चिमी यूपी में सबसे ज्यादा विरोध लोनी से भाजपा विधायक नंद किशोर गुर्जर का दिख रहा है।

Farmers protest BJP leaders faces farmers ire in west Uttar Pradesh After Ghazipur border face off
    Kisan Andolan: Samyukta Kisan Morcha का ऐलान, किसानों की रिहाई तक बातचीत नहीं | वनइंडिया हिंदी

    गाजियाबाद के लोनी विधानसभा के गांव बंथला में सोमवार को एक बड़ी पंचायत हुई। पंचायत में लोनी विधायक नंद किशोर गुर्जर के सार्वजनिक रूप से उनके बहिष्कार की घोषणा की गई है। पंचायत में लोगों ने कहा कि विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने गाजीपुर बार्डर पर चल रहे किसान आंदोलन को लेकर जो बातें कहीं और अपने लोगों को वहां ले जाकर जो हिंसा की कोशिश की, उसने ना सिर्फ क्षेत्र बल्कि गुर्जर जाति को लोगों की भी बदनामी हुई है। ऐसे में गांव के लोग एक राय से विधायक के बहिष्कार का ऐलान कर रहे हैं। गांव में जगह-जगह होर्डिंग भी लगाए गए हैं। इनमें लिखा है कि गांव ने विधायक के बहिष्कार कर दिया है और उनका गांव आना मना है।

    बांथला से पहले बेहटा हाजीपुर के ग्रामीणों ने भी विधायक नंद किशोर के अपने गांव में प्रवेश पर पाबंदी की घोषणा की थी। कई और गांवों में भी बीते चार दिनों में नंद किशोर को लेकर पंचायत हो चुकी है और उनका विरोध हो चुका है।

    क्या है मामला

    उत्तर प्रदेश और दिल्ली के बॉर्डर (गाजीपुर बॉर्डर) पर भारतीय किसान यूनियन धरना दे रही है। राकेश टिकैत के नेतृत्व में ये धरनाचल रहा है। 28 जनवरी की शाम यहां पुलिस बल बढ़ा दिया गया और प्रशासन ने किसान नेताओं से धरने को खत्म करने के लिए कहा। इसके बाद राकेश टिकैत ने कैमरा पर कहा कि किसानों को पीटने की तैयारी चल रही है और लोनी के विधायक नंद किशोर सैकड़ों लोगों के साथ यहां किसानों पर हमला करने आए हैं। राकेश टिकैत के इस वीडियो के आने के बाद लगातार नंद किशोर गुर्जर और दूसरे भाजपा नेता किसानों के गुस्से का सामना कर रहे हैं।

    ये भी पढ़ें- एसएचओ के तलवार से घायल होने के बाद दिल्ली पुलिस ने तैयार की कुछ ऐसी ढालये भी पढ़ें- एसएचओ के तलवार से घायल होने के बाद दिल्ली पुलिस ने तैयार की कुछ ऐसी ढाल

    English summary
    Farmers protest BJP leaders faces farmers ire in west Uttar Pradesh After Ghazipur border face off
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X