• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

फैक्ट चैक: वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने महंगाई भत्‍ते से हटाई रोक, जानें वायरल हो रहे मैसेज की सच्चाई

|

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि कोरोना काल में वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने महंगाई भत्‍ते (डीए) पर लगाई गई रोक वापस ले ली है। इसके साथ वायरल हो रहे मैसेज में ये भी दावा किया जा रहा है कि, सरकार ने डीएम में 24 फीसदी की बढ़ोत्तरी की है। अब सरकार की ओर से इस वायरल मैसेज पर सफाई आई है। केंद्र सरकार ने हाल ही में महंगाई भत्ते (डीए) में किसी भी बढ़ोतरी से इनकार किया है।

Fact Check Central Government says 24 per cent Dearness Allowance raise claim is not true

वायरल मैसेज में दावा किया जा रहा है कि उन्‍होंने महंगाई भत्‍ते पर लगाई गई रोक वापस ले ली है। इसके साथ ही वित्‍त मंत्री ने डीए में 24 फीसदी बढ़ोतरी को भी मंजूरी दे दी है। लाभार्थियों को 24 फीसदी बढ़ोतरी के मुताबिक एरियर का भुगतान भी किया जाएगा। इसमें एक न्यूज चैनल की मॉर्फ्ड तस्‍वीर का भी इस्‍तेमाल किया गया है। अब पीआईबी ने इसका खंडन करते हुए ट्वीट किया है। आइए जानते हैं कि इस खबर की सच्‍चाई क्‍या है।

पीआईबी ने ट्वीट कर लिखा,, दावा : एक मॉर्फ्ड तस्वीर में यह दावा किया जा रहा है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने डीए व महंगाई भत्ते पर से रोक हटाकर, इसमें 24% बढ़ोतरी को मंजूरी दे दी है। पीआई ने साफ किया है कि ये जानकारी पूरी तरह से फर्जी और भ्रामक है। केंद्र सरकार की ओर से ऐसा कोई फैसला नहीं लिया गया है। #PIBFactCheck में यह दावा फर्जी पाया गया है। केंद्र सरकार ने 'छेड़छाड़ की हुई' उस तस्वीर को फर्ज़ी बताया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 2020 में केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स के डीए (Dearness Allowance) में बढ़ोतरी नहीं की जाएगी। हालांकि केंद्र सरकार ने कर्मचारियों और पेंशनर्स के डीए में बढ़ोतरी का संकेत जुलाई में जरूर दिया है, लेकिन इस पर कोई अधिकारिक बयान नहीं आया है। आपको बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण के चलते वित्तीय हानि की वजह से केंद्र सरकार ने लाखों कर्मचारियों और पेंशनर्स के डीए में बढ़ोतरी को रोक दिया था। वित्त विभाग ने अपने आदेश में कहा था कि कर्मचारियों और पेंशनर्स को 1 जनवरी 2020 से महंगाई भत्ते का एक्स्ट्रा पेमेंट नहीं दिया जाएगा।

व्यापार पर भी सीमा विवाद का असर, Paytm में अपनी हिस्सेदारी बेचने पर विचार कर रही चीनी कंपनी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Fact Check Central Government says 24 per cent Dearness Allowance raise claim is not true
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X