• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दक्षिण एशियाई देशों को दहलाने वाले चरमपंथी हमले

By Bbc Hindi

पेशावर
Getty Images
पेशावर

श्रीलंका में रविवार को आठ सिलसिलेवार आत्मघाती हमले ने देश को हिला कर रख दिया है. देश में हालात को देखते हुए कर्फ़्यू लगा दिया गया है. इस हमले की ज़िम्मेदारी अब तक किसी ने नहीं ली है ना ही हमलावरों को पकड़ा जा सकता है.

दक्षिण एशिया के देश कई बड़े चरमपंथी हमलों से पीड़ित रहे हैं. इन देशों में भारत, पाकिस्तान, अफ़गानिस्तान और अब श्रीलंका का नाम भी शामिल हो चुका है.

पिछले कुछ साल में हुए ऐसे ही बड़े चरमपंथी हमलों के बारे में हम आपको बता रहे हैं.

पेशावर हमलाः 16 दिसंबर, 2014 को पाकिस्तान के पेशावर में एक आर्मी स्कूल में हुआ था. इस हमले में 141 लोगों की मौत हुई थी जिसमें 132 बच्चे थे. इस हमले के पीछे तालिबान का हाथ था.

बीबीसी उर्दू से उस वक़्त बातचीत में तालिबान के प्रवक्ता ने कहा था कि इस आर्मी स्कूल को सेना के ऑपरेशन के जवाब में निशाना बनाया गया था.

इस हमले से पहले उत्तरी वज़ीरिस्तान और ख़ैबर इलाके में पाकिस्तानी सेना के ऑपरेशान में सैकड़ों तालिबान लड़ाकों की मौत हो गई थी.

ताज हमला
Getty Images
ताज हमला

मुंबई ताज हमलाः 26 नवंबर साल 2008 को मुंबई में कई जगहों पर चरमपंथी हमले किए गए. इस हमले में 174 लोगों की मौत हुई थी. ये हमले 60 घंटों तक जारी रहे थे.

उन तीन दिनों में दौड़ता-भागता, जीता-जागता मेट्रोपोलिटन मुंबई शहर ठहर सा गया था. सहम सा गया था. ये न्यू यॉर्क के 9 /11 की तरह मुंबई का 26/11 साबित हुआ.

मस्तंग हमला
Getty Images
मस्तंग हमला

मस्तंग हमलाः 16 जुलाई को बलूचिस्तान के मस्तंग में एक चुनावी रैली के दौरान आत्मघाती हमला हुआ था. जिसमें 149 लोगों की मौत हो गई थी. इसे आज़ादी के बाद पाकिस्तान का दूसरा सबसे बड़ा हमला माना गया.

25 जुलाई को पाकिस्तान में आम चुनाव होने थे और इससे ठीक कुछ दिन पहले ही ये हमला हुआ.

काबुल हमला
Getty Images
काबुल हमला

काबुल हमलाः 31 मई 2017 में काबुल स्थित जर्मन दूतावास के पास हुए बम धमाके में 150 लोगों की मौत हुई थी और 300 से ज़्यादा लोग ज़ख्मी हुए थे.

ये हमला काबुल के सबसे रिहायशी इलाके जर्मन दूतावास और अफ़गान प्रसिडेंशिल पैलेस के पास हुआ था. साल 2001 के बाद ये देश में होने वाला सबसे बड़ा धमाका था.

श्रीलंका ईस्टर हमला
Getty Images
श्रीलंका ईस्टर हमला

श्रीलंका ईस्टर हमलाः ईस्टर के दिन श्रीलंका में आठ जगहों पर सिलसिलेवार आत्मघाती हमले में अब तक 290 लोगों की मौत हो गई है. हमले में लगभग 500 लोग घायल हैं. मृतकों में 36 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं जिसमें छह भारतीय हैं.

इस पूरे मामले में 24 लोगों की गिरफ़्तारी भी हुई है. हालांकि अब तक हमलावर की पहचान नहीं हो सकी है.

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Extremist attacks on South Asian countries
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X