• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सीएम योगी पर कफील खान का पलटवार, कहा- बच्चों की मौत पर राजनीति मत कीजिए

|

नई दिल्ली। गोरखपुर में बीआरडी मेडिकल कालेज में पिछले साल अगस्त महीने में बच्चों के मौत का मामला एक फिर गरमा गया है। बीआरडी मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर रहे कफील खान ने राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा है कि शिशुओं की मौत पर मुख्यमंत्री झूठ बोल रहे हैं। सीएम इस मुद्दे का इस्तेमाल राजनीतिक लाभ के लिए कर रहे हैं। कफील खान ने कहा कि बच्चों की मौतें ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई, इन मौतों के पीछे कॉलेज की आंतरिक राजनीति थी।

Dr Kafeel Khan said, UP CM yogi adityanath is lying about Gorakhpur tragedy

बता दें कि इस मामले में यूपी की योगी सरकार ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में दिए गए एफीडेविड में इस बात को स्वीकारा है कि मौत ऑक्सीजन की कमी से हुई है। डॉ कफील ने कहा कि सीएम योगी इस मामले में पर झूठ बोल रहे हैं और इसका इस्तेमाल राजनीतिक लाभ के लिए कर रहे हैं। कफील ने कहा है कि एक आरटीआई में सरकार ने इस बात को स्वीकार किया है कि अस्पताल में आने वाले ऑक्सीजन सिलिंडर का भुगतान विक्रेता को नहीं किया गया था।

यही वजह थी अस्पताल में सिलिंडरों कमी का। डॉ कफील ने इस मामले में सीएम योगी पर स्वास्थ्य मंत्री को बचाने की कोशिश का आरोप भी लगाया है। कफील ने कहा कि घटना के एक साल बाद सीएम इस मामले पर राजनीति ना करें। इसके साथ-सात डॉ कफील इस मामले में और भी बातें कही है

दो दिन में 27 नवजात शिशुओं की मौत
गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज में पिछले साल 10 से 12 अगस्त के बीच में 27 नवजात शिशुओं की मौत हो गई थी। शिशुओं के मौत के बाद काफी हंगामा भी मचा हुआ था। डॉ कफील ने कहा कि सीएम योगी कैसे कह सकते हैं कि शिशुओं की मौत इंसेफलाइटिस से हुई, इस सारे प्रकरण में कोई भी आंतरिक राजनीति नहीं है। सीएम योगी इस घटना का राजनीतिक लाभ लेने और अपनी सरकार को बचाने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- सदन में योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर बोला हमला, कहा अपने नकारापन को छिपाने के लिए सपा कर रही है हंगामा

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

गोरखपुर की जंग, आंकड़ों की जुबानी
वर्ष
प्रत्याशी का नाम पार्टी स्‍थान वोट वोट दर मार्जिन
2019
रवि किशन भाजपा विजेता 7,17,122 61% 3,01,664
Rambhual Nishad सपा उपविजेता 4,15,458 35% 3,01,664
2018
Pravin Kumar Nishad समाजवादी विजेता 4,56,513 48% 21,725
Upendra Dutt Shukla BJP उपविजेता 4,34,788 0% 0
2014
आदित्यनाथ भाजपा विजेता 5,39,127 52% 3,12,783
राजमती निषाद समाजवादी उपविजेता 2,26,344 22% 0
2009
आदित्यनाथ भाजपा विजेता 4,03,156 54% 2,20,271
विनय शंकर तिवारी बीएसपी उपविजेता 1,82,885 24% 0
2004
आदित्य नाथ भाजपा विजेता 3,53,647 51% 1,42,039
जमुना निशाद समाजवादी उपविजेता 2,11,608 31% 0
1999
आदित्य नाथ भाजपा विजेता 2,67,382 41% 7,339
जमुना प्रसाद निशाद समाजवादी उपविजेता 2,60,043 40% 0
1998
आदित्यनाथ भाजपा विजेता 2,68,428 43% 26,206
जमुना प्रसाद निशाद समाजवादी उपविजेता 2,42,222 38% 0
1996
अवैद्यनाथ भाजपा विजेता 2,36,369 42% 56,880
वीरेंद्र प्रताप शाही समाजवादी उपविजेता 1,79,489 32% 0
1991
अवेद्य नाथ भाजपा विजेता 2,28,736 50% 91,359
शारदा प्रसाद रावत जेडी उपविजेता 1,37,377 30% 0
1989
अवेद्य नाथ एचएमएस विजेता 1,93,821 43% 45,837
रामपाल सिंह जेडी उपविजेता 1,47,984 33% 0
1984
मदन पांडे कांग्रेस विजेता 1,91,020 51% 96,600
हरिकेश बहादुर एलकेडी उपविजेता 94,420 25% 0
1980
हरि केश बहादुर कांग्रेस(आई) विजेता 1,08,796 33% 16,141
दीप नारायण यादव जेएनपी(एस) उपविजेता 92,655 29% 0
1977
हरिकेश बहादुर बीएलडी विजेता 2,38,635 74% 1,83,054
नरसिंह नारायण पांडे कांग्रेस उपविजेता 55,581 17% 0
1971
नरसिंह नारियन कांग्रेस विजेता 1,36,843 53% 37,578
अवेद नाथ आईएनडी उपविजेता 99,265 39% 0
1967
डी वी नाथ आईएनडी विजेता 1,21,490 48% 42,715
एस एल सक्सेना कांग्रेस उपविजेता 78,775 31% 0
1962
सिंहासन सिंह कांग्रेस विजेता 68,258 34% 3,260
दिग्विजई नाथ एचएमएस उपविजेता 64,998 32% 0
1957
महादेव प्रसाद कांग्रेस विजेता 1,67,456 26% 1,67,456

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Dr Kafeel Khan said, UP CM yogi adityanath is lying about Gorakhpur tragedy
For Daily Alerts

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more