दिल्ली में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची डीजल की कीमत, पेट्रोल भी हुआ महंगा

Subscribe to Oneindia Hindi
    Diesel hits record high in Delhi | वनइंडिया हिंदी

    नई दिल्ली। एक ओर सरकार दावा कर रही है कि पेट्रोल और डीजल के दाम किफायती हैं वहीं दूसरी ओर हकीकत कुछ और ही है। देश की राजधानी दिल्ली में बुधवार (10 जनवरी) को डीजल का दाम बढ़कर 60.66 रुपए प्रति लीटर हो गया। वहीं पेट्रोल के दाम 70.53 रुपए प्रति लीटर पहुंच गए। अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार तेल के दाम इसलिए बढ़ रहे हैं क्योकि कच्चे तेल का दाम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ रहे हैं।

    जिम्मेदारी राज्य सरकारों की

    जिम्मेदारी राज्य सरकारों की

    बताया गया कि साल 2015 की मई के बाद इस समय कच्चे तेल का दाम अपने उच्चतम स्तर पर है जो प्रति बैरल 68 डॉलर है। देश के 4 महानगरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में डीजल के दाम 3 अक्टूबर, 2017 के बाद से उच्चतम हैं। वहीं इस पूरे मसले पर केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का कहना है कि अब लोगों को राहत पहुंचाने की जिम्मेदारी राज्य सरकारों की है।

    राज्य सरकारें भी टैक्स लगाती हैं

    राज्य सरकारें भी टैक्स लगाती हैं

    प्रधान ने कहा कि 'पेट्रोल और डीजल पर सिर्फ केंद्र सरकार टैक्स नहीं लगाती बल्कि राज्य सरकारें भी टैक्स लगाती हैं। केंद्र सरकार ने प्रति लीटर 2 रुपए एक्साइज ड्यूटी में कमी की है, अब समय है कि कि राज्य सरकारें भी वैट कम कर लोगों को राहत दें।' गुजरात, महाराष्ट्र, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड ने 3 अक्टूबर को वैट कटौती की थी। लेकिन अन्य सरकारों ने इससे इनकार कर दिया है।

    सरकार ने अनुमान लगाया था कि

    सरकार ने अनुमान लगाया था कि

    इससे पहले सरकार ने अनुमान लगाया था कि कच्चे तेल की कीमत 55 डॉलर प्रति बैरल रहेगा, लेकिन दिसंबर तक यह कीमतें काफी बढ़ गई, ऐसे में अगर यह कीमतें इस वर्ष नहीं कम होती हैं तो कीमतें और बढ़ सकती हैं। वर्ष 2014 से कच्चे तेल की कीमतों में लगातार कमी हुई, लेकिन आम लोगों को इसका कोई लाभ नहीं हुआ। ऐसे में आने वाले समय में जिस तरह से अंदाजा लगाया जा रहा है कि कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी हो सकती है, उसका भार आम लोगों पर पड़ सकता है। जिस स्तर से लगातार तेल की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है उसे देखे तो पेट्रोल के दाम 80 रुपए तक जा सकते हैं।

    एक्साइज ड्यूटी को कम कर दिया था

    एक्साइज ड्यूटी को कम कर दिया था

    आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने अक्टूबर माह में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कमी के लिए एक्साइज ड्यूटी को कम कर दिया था, लेकिन एक बार फिर से पेट्रोल और डीजल की कीमतें काफी बढ़ गई हैं। दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत जहां 70 रुपए पहुंच गई है तो डीजल भी 61 रुपए तक पहुंच गया है। लेकिन जिस तरह से कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है उसकी वजह से इसके दाम कम होने की बजाए बढ रहे हैं।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Diesel price breaks record in Delhi

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.