• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

DGTR ने चीनी विटामिन सी के डंपिंग की जांच शुरू की, एंटी-डंपिंग ड्यूटी की सिफारिश कर सकती है

|

नई दिल्ली। भारतीय घरेलू दवा कंपनियों द्वारा की गई शिकायत के बाद सरकार ने चीन से भारत में डंप की गई विटामिन सी जांच शुरू कर दी है, जिसका उपयोग दवा कंपनियां दवाओं की मैन्यूफैक्चरिंग में करती है। चीनी विटामिन सी की भारतीय बाजारों में डंपिंग के संबंध में शिकायत करने वाली दवा कंपनी बजाज हेल्थकेयर लि. ने वाणिज्य मंत्रालय की जांच इकाई व्यापार उपचार महानिदेशालय (डीजीटीआर) के समक्ष शिकायत दर्ज कराई थी।

चीन के ‘जीन’ में है विस्तारवाद , उसकी जमीन हड़पो नीति से भारत समेत दुनिया के 23 देश परेशान

vitamin

बिहार चुनाव में जादुई चिराग बनना चाहते थे LJP चीफ, लेकिन मांझी की एंट्री से उड़ी पासवान की नींद

शिकायत में आरोप लगाया कि घरेलू दवा उद्योग प्रभावित हो रही है

शिकायत में आरोप लगाया कि घरेलू दवा उद्योग प्रभावित हो रही है

दवा कंपनी बजाज हेल्थकेयर ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि चीन से विटामिन सी की डंपिंग से भारत का घरेलू दवा उद्योग प्रभावित हो रहा है। कंपनी ने सरकार से विटामिन सी के आयात पर डंपिंग रोधी शुल्क लगाने का भी आग्रह किया है। इस पर डीजीटीआर ने कहा कि कंपनी ने प्रथम दृष्टया जो प्रमाण दिए हैं, उनके आधार पर जांच शुरू की गई है।

DGTR चीन से इस उत्पाद की कथित डंपिंग के प्रभाव का पता लगाएगा

DGTR चीन से इस उत्पाद की कथित डंपिंग के प्रभाव का पता लगाएगा

डीजीटीआर चीन से इस उत्पाद की कथित डंपिंग के प्रभाव का पता लगाएगा और अगर उसे लगता है कि डंप़िंग से घरेलू विनिर्माता प्रभावित हो रहे हैं, तो वह डंपिंग रोधी शुल्क लगाने की सिफारिश करेगा। अगर ऐसा होता है तो यह कदम घरेलू उद्योग को हो रहे नुकसान की भरपाई करने के लिए पर्याप्त होगा। दरअसल, डीजीटीआर डंपिंग रोधी शुल्क लगाने की सिफारिश पर ही वित्त मंत्रालय डंपिंग रोधी शुल्क लगाता है।

जानिए, अंतर्राष्ट्रीय व्यापार के मामले में कैसे होती है दवाओं की डंपिंग

जानिए, अंतर्राष्ट्रीय व्यापार के मामले में कैसे होती है दवाओं की डंपिंग

उल्लेखनीय है अंतर्राष्ट्रीय व्यापार के मामले में डंपिंग तब होती है जब कोई देश या फर्म अपने घरेलू बाजार में उस उत्पाद की कीमत से कम कीमत पर किसी वस्तु का निर्यात करता है। फिलहाल, जांच की अवधि अप्रैल 2019- मार्च 2020 है, लेकिन डीजीटीआर अप्रैल 2016-19 की अवधि के आंकड़ों पर भी गौर करेगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Following complaints made by Indian domestic pharmaceutical companies, the government has started a Vitamin C investigation dumped from China to India, which is used by pharmaceutical companies in manufacturing drugs. Bajaj Healthcare Ltd, a pharmaceutical company complaining about dumping of Chinese Vitamin C in Indian markets. Had filed a complaint with the Directorate General of Trade Remedies (DGTR), the investigative unit of the Ministry of Commerce.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X