• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

निजामुद्दीन मरकज के मौलाना के खिलाफ FIR, लॉकडाउन में की सभा, कई कोरोना से संक्रमित

|

नई दिल्ली। दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके के लगभग 200 लोगों को कई अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। इनमें से कुछ लोगों के कोरोना संक्रमित होने की जानकारी मिली थी। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने निजामुद्दीन इलाके में स्थित एक मस्जिद के आसपास के इलाके को खाली करा लिया। दिल्ली सरकार ने पुलिस से निजामुद्दीन मरकज के मौलाना के खिलाफ एफआईआर दर्ज के आदेश दिए हैं।

आयोजकों को नोटिस जारी

आयोजकों को नोटिस जारी

ताजा जानकारी के अनुसार, दिल्ली पुलिस ने धार्मिक कार्यक्रम आयोजित करने के मामले में आयोजकों को नोटिस जारी किया है। दिल्ली सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि, यह हमारी जानकारी में आया है कि निजामुद्दीन मरकज के प्रशासकों ने लॉकडाउन की शर्तों का उल्लंघन किया और अब कई पॉजिटिव मामले पाए गए हैं। इस प्रतिष्ठान के प्रभारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। दिल्ली पुलिस के अधिकारी ने कहा कि, हमने निज़ामुद्दीन के बाकी हिस्सों से मरकज इमारत को अलग कर दिया है, जहां सभा हुई थी। हम लोगों को चेक-अप के लिए बाहर ले जाने में स्वास्थ्य विभाग की सहायता कर रहे हैं, पिछले 2 दिनों में लगभग 200 लोगों को चेक-अप के लिए ले जाया गया है। लगभग 300 से 400 लोग थे जो मरकज की सभा में शामिल हुए थे। COVID 19 से संबंधित कुछ लक्षण होने के संदेह के बाद हमें स्वास्थ्य विभाग से संपर्क किया गया था।

मौलाना पर एफआईआर के आदेश

जानकारी मिल रही है कि निजामुद्दीन के मरकज में 18 मार्च को एक धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इसमें देश के कई राज्यों से 500 से ज्यादा लोग इकट्ठा हुए थे। इनमें से ज्यादातर लोग वापस लौट गए थे। डीसीपी साउथ ईस्ट आरपी मीणा ने कहा कि, हमने कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान यहां (निजामुद्दीन में) धार्मिक सभा आयोजित करने के लिए नोटिस दिया है। हम मामले की जांच कर रहे हैं। यदि आवश्यक हुआ तो कार्रवाई की जाएगी और तुरंत एफआईआर भी दर्ज की जाएगी।

00-400 लोगों ने निजामुद्दीन के मरकज में एक धार्मिक आयोजन में हिस्सा लिया था

00-400 लोगों ने निजामुद्दीन के मरकज में एक धार्मिक आयोजन में हिस्सा लिया था

दिल्ली पुलिस ने कहा कि, हमने मरकज बिल्डिंग को निज़ामुद्दीन के बाकी हिस्सों से आइसोलेट कर दिया है। हम लोगों को चेक-अप के लिए बाहर ले जाने में स्वास्थ्य विभाग की सहायता कर रहे हैं, पिछले 2 दिनों में लगभग 200 लोगों को चेक-अप के लिए ले जाया गया है। आपको बता दें कि करीब 300-400 लोगों ने निजामुद्दीन के मरकज में एक धार्मिक आयोजन में हिस्सा लिया था और उनमें से 163 लोगों के कोरोना से संक्रमित होने की आशंका है। इन सभी को दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

दिल्ली: निजामुद्दीन से मिले कोरोना के 200 संदिग्ध, 100 विदेशी नागरिक भी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Delhi Government to ask police to register FIR against Maulana of Markaz, Nizamuddin
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X