• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में ये समस्या बन सकती है बड़ी चुनौती

|

नई दिल्ली। पूरी दुनिया इस समय कोरोना वायरस का सामना कर रही है। इस संकट से बचने के लिए सबसे ज्यादा जोर एहतियात बरतने पर दिया जा रहा है। लगातार विशेषज्ञ इस बात पर जोर दे रहे हैं कि घर से बाहर निकलने पर मास्क और दस्ताने पहनकर निकलें। बाहर किसी की छुई चीज को ना छुएं। इस सबके चलते मास्क और पीपीई किट्स की मांग तेजी से बढ़ी है। एक रिसर्च में कहा गया है कि पीपीई की मांग में वृद्धि, खाने की पैकिंग पर जोर और सिंगल यूज पानी की बोतलों की बढ़ी मांग ने प्लास्टिक कचरे में बहुत वृद्धि की है, जो चिंताजनक है।

 अचानक बढ़ कचरा बन सकता है चुनौती

अचानक बढ़ कचरा बन सकता है चुनौती

टेक्सास में बेकर इंस्टीट्यूट फॉर पब्लिक पॉलिसी में एनर्जी एक्सपर्ट रिचेल मैडेल ने एक ब्लॉग में इस समस्या की ओर ध्यान दिलाया है। कहा गया है कि कोरोनावायरस महामारी के दौरान प्लास्टिक कचरे में वृद्धि चिंचाजनक है। उन्होंने कहा है कि इसका आने वाले समय में काफी खराब प्रभाव हो सकता है। इस समय प्लास्टिक कचरे के बढ़ने की बड़ी वजह इसको भी माना है कि लॉकडाउन की वजह से वो सभी संस्थाएं और फैक्ट्रियां काम नहीं कर रही हैं जो रिसाइकिलिंग के काम में लगी हैं।

अचानक खास किस्म का कचरा बढ़ा

अचानक खास किस्म का कचरा बढ़ा

विशेषज्ञों का कहना है कि रिसाइकिलिंग ना होने और बहुत सारी प्लास्टिक की चीजों के इस्तेमाल बढ़ने का प्रभाव ये हो रहा है कि कचरा अचानक से बढ़ रहा है। अमेरिका में ही करीब 50 फीसदी रीसाइक्लिंग कार्यक्रमों को महामारी से संबंधित सुरक्षा के चलते फिलहाल बंद कर दिया गया है। रिसाइकिलिंग का उद्योग में पहले ही बहुत सी चुनौतियों से जूझ रहा है। ऐसे में कोरोना संकट के साथ उसके लिए रास्ता मुश्किल होने जा रहा है।

कम टेस्ट करने के राहुल गांधी के आरोप का डॉक्टर गंगा खेड़कर ने दिया क्या जवाब

दुनिया में बढ़ता जा रहा कोरोना का खतरा

दुनिया में बढ़ता जा रहा कोरोना का खतरा

भारत और दुनियाभर के ज्यादातर देशों में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 941 नए केस आए हैं और 37 लोगों की मौत हुई है। जिसके बाद गुरुवार को भारत में कोरोना वायरस पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 12,380 हो गई है। अब तक 414 मौतें इस वायरस के चलते हो चुकी हैं। 10,477 लोगों का इलाज चल रहा है जबकि 1,489 को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी मिल गई है दुनिया में इस वायरस से पीड़ितों की संख्या अब बीस लाख को पार कर गई है। दुनियाभर में अब तक 20,82,370 लोगों में संक्रमण पाया जा चुका है। इससे अब तक एक लाख 34 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका दुनिया का सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित देश है। अमरीका में 28,527 मौतें कोरोना से हुई हैं, जो दुनिया में सबसे ज्यादा हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Spike in demand for protective equipment single use bottles leading to worrying surge in plastic waste
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X