'मस्जिद' को बताया ध्वनि प्रदूषण का स्रोत, खड़ा हो गया विवाद

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। आईसीएसई बोर्ड की कक्षा 6 की किताब में ऐसी बात छापी गई है, जिसे लेकर विवाद खड़ा हो गया है। दरअसल, इस किताब में ध्वनि प्रदूषण को दिखाते हुए एक तस्वीर छापी गई है जिसमें यह दिखाया गया है कि मस्जिद से भी प्रदूषण होता है। यह तस्वीर फिलहाल सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है और लोग इस पर अपना गुस्सा भी जाहिर कर रहे हैं।

'मस्जिद' को बताया ध्वनि प्रदूषण का स्रोत, खड़ा हो गया विवाद

इस तस्वीर से लोग इतना अधिक गुस्से में हैं कि वह सोशल मीडिया पर इसकी आलोचना कर रहे हैं और पब्लिशर से माफी मांगने के लिए भी कह रहे हैं। वहीं साथ ही वह पब्लिशर से यह वादा भी चाहते हैं कि उसके आने वाले संस्करणों में मस्जिद की तस्वीर न छापी जाए। इसे लेकर गुस्साए लोगों ने सोशल मीडिया पर ही एक ऑनलाइन पिटिशन के जरिए किताब को बाजार से वापस लेने की मुहिम भी छेड़ दी है।

ये भी पढ़ें- अलकायदा ने जारी किया VIDEO जिसमें जिंदा दिखे 6 विदेशी बंधक: रिपोर्ट

यह किताब सेलिना पब्लिशर्स की है। साइंस की इस किताब में ध्वनि प्रदूषण पर एक अध्याय है। इसमें एक तस्वीर छपी है, जिसमें दिखाया गया है कि ध्वनि प्रदूषण कार, ट्रेन, प्लेन, मस्जिद आदि से होता है। इस तस्वीर में यह भी दिखाया है कि इन सभी आवाजों से परेशान होकर एक व्यक्ति अपने कान बंद किए हुआ खड़ा है।

पब्लिशर ने इस तस्वीर के लिए माफी मांग ली है, लेकिन अभी तक आईसीएसई बोर्ड की तरफ से इसे लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। इसके पब्लिशर हेमंत गुप्ता ने सोशल मीडिया पर ही माफी मांगते हुए कहा- किताब के नए संस्करणों से मस्जिद की तस्वीर हटा दी जाएगी। किताब के पेज नंबर 202 पर छपी तस्वीर एक किले के हिस्से से मेल खाती है। अगर इस तस्वीर से किसी की भावनाएं आहत हुई हैं तो मैं इसके लिए माफी मांगता हूं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Controversy Over Mosque Shown As Noise Pollutant In The Class 6 Textbook
Please Wait while comments are loading...