• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पहली बार विपक्षी दलों की बैठक में हिस्सा लेंगे सीएम उद्धव ठाकरे, प्रवासी मजदूरों पर होगी चर्चा

|

नई दिल्ली: देश में लागू लॉकडाउन की वजह से बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर परेशान हैं। सरकारी मदद नहीं मिलने के बाद अब मजदूर पैदल ही घरों की ओर निकल रहे हैं। प्रवासी मजदूरों को मदद भले ही ना मिले लेकिन उन पर सियासत का मौका कोई भी पार्टी नहीं छोड़ रही है। इस बीच मजदूरों की समस्या को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को विपक्षी दलों की एक बैठक बुलाई है। जिसमें मजदूरों के मुद्दों पर चर्चा होगी।

Uddhav Thackeray

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और शिवसेना सांसद संजय राउत भी इस बैठक में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल हो सकते हैं। कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों की यह पहली बैठक होगी, जिसमें उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री के रूप में शामिल होंगे। महाराष्ट्र में महा विकास आघाडी गठबंधन सरकार बनने के बाद फरवरी में पहली बार सीएम ठाकरे सोनिया गांधी से मिले थे। 25 मार्च को देश में लागू राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बाद विपक्षी दलों की यह पहली बैठक होगी।

24 घंटों में कोरोना वायरस के 5,609 नए केस, कुल संख्या 1 लाख 12 हजार से अधिक

रिपोर्ट के अनुसार कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी बैठक में प्रवासी श्रमिकों की दुर्दशा, श्रम कानूनों में बदलाव और किसानों की समस्या पर भी चर्चा करेंगी। इस बैठक में लगभग 18 विपक्षी दल वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल होंगे। इनमें कांग्रेस के साथ टीएमसी, डीएमके, सपा, सीपीआई (एम) सीपीआई, आरजेडी, मुस्लिम लीग, जेकएनसी,एआईयूडीएफ, एलजेडी, आरएसपी शामिल हैं। आपको बता दें कि इससे पहले कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने दिल्ली में प्रवासी श्रमिकों से मुलाकात की थी। साथ ही उनको घर पहुंचाने के लिए वाहनों की भी व्यवस्था की थी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Uddhav Thackeray can attend Sonia Gandhi's meeting on migrant
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X