• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रेलवे सेफ्टी चीफ कमिश्नर की जांच में अमृतसर ट्रेन हादसे के पीछे लापरवाही

|

नई दिल्ली। दशहरा पर अमृतसर में हुए ट्रेन हादसे की जांच रेलवे सेफ्टी के चीफ कमिश्नर ने पूरी कर ली है। 19 अक्टूबर को हुए इस हादसे के पीछे आम लोगों की लापरवाही सामने आई है, जो पटरी पर खड़े होकर दशहरा का मेला देख रहे थे। रिपोर्ट में कहा गया है कि जिला प्रशासन और आयोजक इस तरह के किसी भी प्रोग्राम की जानकारी, रेलवे प्रशासन को दे। जो रेलवे पटरियों के आसपास हों ताकि जरूरी एहतियाती कदम उठाए जा सकें।

Chief Commissioner of Railway Safety concluded amritsar train accident inquiry

असल 19 अक्टूबर को अमृतसर में जोड़ा फाटक के नजदीक स्थित धोबीघाट में आयोजित दशहरा उत्सव देख रहे लोगों में ट्रेन से कटकर 65 की मौत हो गई थी, जबकि डेढ़ सौ से ज्यादा घायल हो गए थे। हादसा उस वक्त हुआ, जब पुतला दहन किया जा रहा था।

ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से चुनाव कराने की याचिका सुप्रीम कोर्ट में खारिज

बुधवार को अमृतसर हादसे की मजिस्ट्रेट जांच रिपोर्ट भी पंजाब गृह सचिव को सौंप दी गई है। सरकार ने जालंधर के मंडलायुक्त बी पुरुषार्थ को 19 अक्टूबर को ट्रेन हादसे की जांच के लिए विशेष कार्यकारी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया था। 300 पन्नों वाली जांच रिपोर्ट में 150 लोगों के बयान दर्ज हैं जिसमें रेलवे अधिकारियों, पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धु की पत्नी नवजोत कौर के बयान भी शामिल हैं। बताया गया है कि गृह विभाग इस रिपोर्ट को देखेगा। ट्रेन के ड्राइवर को रेलवे द्वारा क्लीन चिट दिए जाने पर प्रश्न खड़े करने वाले नवजोत सिंह ने भी लिखित में अपने बयान दिए हैं।

'तुम बिल्‍कुल हम जैसे निकले', वाली शायरा फहमीदा रियाज का लाहौर में इंतकाल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Chief Commissioner of Railway Safety concluded amritsar train accident inquiry
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X